Showing posts with label States. Show all posts

मैनपुरी में जीते तो ठीक, रामपुर में हारते ही सपा ने उठा दिया EVM पर सवाल

after-losing-in-rampur-sp-raised-question-on-evm

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी और रामपुर में हुए उपचुनाव के नतीजे कल घोषित कर दिए गए, जैसा हर चुनाव में होता आया है कि विपक्षी पार्टियाँ चुनाव हारते ही अपनी गलती पर ध्यान देने की बजाय EVM पर ठीकरा फोड़ देती हैं, वही इस उपचुनाव में भी हुआ, रामपुर में चुनाव हारते ही सपा ने ईवीएम ने पर सवाल उठा दिया। जबकि मैनपुरी में सपा चुनाव जीती है इसलिए वहां ईवीएम ठीक है, कोई सवाल नहीं उठा रहा है.

समाजवादी पार्टी के एमएलसी सुनील यादव ने ट्वीट कर न सिर्फ रामपुर उपचुनाव की हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ा बल्कि यूपी विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार के लिए भी ईवीएम को दोषी ठहरा दिया। सुनील यादव ने अपने ट्वीट में लिखा, वोट काउंटिंग में आख़िरी के चार पाँच राउंड में जादूई वोटों का बक्सा खुलता है और 20-22 राउंड तक लीड लेने वाला प्रत्याशी चमत्कारी रूप से मार्जिनल अंतर से हार जाता है! इस चमत्कारी बक्से ने पिछले विधानसभा चुनाव में 80-90 सीटें भाजपा की झोली में डाल दी थी! सुनील यादव ने अपने ट्वीट में साफतौर पर ईवीएम का जिक्र नहीं किया लेकिन विधानसभा और लोकसभा चुनाव ईवीएम से ही होते हैं, वोट भी उसे में कैद रहते हैं. चाहे उसे बक्शा कहो या ईवीएम एक ही हैं.


गौरलतब है कि सपा नेता आजम खान की सदस्यता रद्द होने के बाद रामपुर में उपचुनाव हुए थे, सपा और भाजपा ने जीत के लिए पूरी ताकत झोंक दी लेकिन अंत में सफलता भाजपा को मिली। भाजपा उम्मीदवार आकाश सक्सेना को कुल 81371 वोट मिले तो वहीँ सपा उम्मीदवार मोहम्मद आसिम रजा को 47271 वोट मिले। आसिम रजा को जिताने के लिए आजम खान ने पूरी ताकत झोंक दी थी, क्योंकि ये आजम खान की प्रतिष्ठा का चुनाव था लेकिन आजम खान अपनी प्रतिष्ठा बचाने में नाकामयाब रहे और पहली बार रामपुर में कमल खिल गया. मैनपुरी में अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव ने लगभग 2 लाख से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की है, वहां कोई ईवीएम पर सवाल नहीं उठा रहा है. 

राहुल गांधी ने नहीं किया हिमाचल में प्रचार, भाजपा की हुई करारी हार

rahul-gandhi-did-not-campaign-in-himachal-pradesh

हिमाचल प्रदेश और गुजरात में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं, गुजरात में भाजपा ने प्रचंड विजय हासिल की तो वहीँ हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने भी जीत का परचम लहरा दिया। दोनों राज्यों में चुनाव जीतने के लिए भाजपा के बड़े नेताओं ने जमकर प्रचार प्रसार किया गुजरात में तो सफलता मिली लेकिन हिमाचल प्रदेश में शिकस्त झेलनी पड़ी. 

आपको बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हिमाचल प्रदेश में एक भी चुनावी रैली नहीं की, हिमाचल में कांग्रेस की बड़ी जीत हुई और भाजपा की हार, गुजरात में राहुल गांधी ने चुनावी रैली की थी, वहां भाजपा ने प्रचंड जीत हासिल की और कांग्रेस की शर्मनाक हुई. राहुल गांधी इस समय भारत जोड़ो यात्रा में पैदल चल रहे हैं.

गुजरात में 182 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा ने 156 सीटें जीती, कांग्रेस के खाते में 16 सीटें गई, आम आदमी पार्टी को 5 सीट मिली, एक सीट पर सपा जीती और 3 सीट निर्दलीयों के खाते में गई, हिमाचल प्रदेश में 68 सीटों पर हुए चुनाव में कांग्रेस 40 सीटें जीती, भाजपा के खाते में 24 सीटें गई और 3 सीटों पर निर्दलीयों की विजय हुई.

आजम खान के गढ़ में लहराया भगवा, भाजपा प्रत्याशी ने सपा के आसिम रजा को चटाई धूल

bjp-won-in-rampur-bye-election

उत्तर प्रदेश के रामपुर विधानसभा में हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने शानदार जीत दर्ज की है, पहली बार आजम खान के गढ़ रामपुर में कमल खिला है, भाजपा प्रत्याशी आकाश सक्सेना ने सपा प्रत्याशी आसिम रजा को 31 हजार से ज्यादा वोटों से पटखनी दी.

बदजुबान सपा नेता आजम खान की सदस्यता रद्द होने के बाद रामपुर में उपचुनाव हुए थे, सपा और भाजपा ने जीत के लिए पूरी ताकत झोंक दी लेकिन अंत में सफलता भाजपा को मिली। भाजपा उम्मीदवार आकाश सक्सेना को कुल 81371 वोट मिले तो वहीँ सपा उम्मीदवार मोहम्मद आसिम रजा को 47271 वोट मिले। आसिम रजा को जिताने के लिए आजम खान ने पूरी ताकत झोंक दी थी, क्योंकि ये आजम खान की प्रतिष्ठा का चुनाव था लेकिन आजम खान अपनी प्रतिष्ठा बचाने में नाकामयाब रहे और पहली बार रामपुर में भाजपा ने जीत दर्ज की. 

लखनऊ: ल'व जिहा'द केस में मर्डर के आरोपी सूफियान को यूपी पुलिस ने मारी गोली

up-police-encounter-soofiyan

लखनाऊ में लव जिहाद केस में निधि गुप्ता हत्याकांड के आरोपी सुफियान का यूपी पुलिस ने हॉफ एनकाउंटर किया है, 25 हजार के ईनामी सूफियान को पुलिस मुठभेड़ में गोली लगी है, पैर में गोली लगने के बाद पुलिस ने सूफियान को गिरफ्तार कर लिया है, लखनऊ पुलिस लगातार सूफियान को ढूढ़ रही थी, दिल्ली, राजस्थान उत्तराखंड में दबिश दी जा रही थी और अब आख़िरकार पुलिस ने सूफियान को धर दबोचा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, लखनऊ के दुबग्गा इलाके में पुलिस ने एनकाउंटर में सूफियान को गिरफ्तार कर लिया है, बताया जा रहा है कि सूफियान ने पुलिस टीम पर फायरिंग की थी, जवाबी कार्यवाही में सूफियान को पुलिस की गोली लगी है, सूफियान पर युवती को पांचवी मंजिल से फेंककर ह्त्या करने का आरोप है.

लखनऊ में सूफियान ने 17 वर्षीय निधि गुप्ता को छत से गिराकर मौत के घाट उतार दिया था। मृतक की मां का आरोप था कि सूफियान उनकी बेटी पिछले कई दिनों से तंग कर रहा था। इतना ही नहीं आरोपी सूफियान निधि को धर्म परिवर्तन कर उस पर जबरन शादी का दबाव डाल रहा था। 

सुधीर सूरी की हत्या के बाद बोले बग्गा- केजरीवाल के खालिस्तान प्रेम ने हिन्दू नेता को मरवा दिया

tajinder-bagga-tweeted-on-sudhir-soori-murder

पंजाब के अमृतसर में दिनदहाड़े हिन्दू नेता सुधीर सूरी की ह्त्या के बाद राज्य के कानून-व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं, राजनैतिक टिप्पणियाँ भी शुरू हो गई हैं, भाजपा नेता तजिंदर बग्गा ने AAP के मुखिया अरविन्द केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल के खालिस्तान प्रेम ने एक और हिन्दू नेता की जान ले ली, मालूम हो कि पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार है.

भाजपा नेता तजिंदर बग्गा ने अपने ट्वीट में लिखा, स्वर्गीय सुधीर सुरी जी के क़रीबियों ने 4 दिन पहले ही उनकी हत्या की आशंका जताई थी लेकिन केजरीवाल और राघव चड्ढा के खालिस्तानी प्रेम ने एक और हिंदू नेता को मरवा दिया। चुनाव में  खालिस्तानी आतंकवादी के घर सोकर केजरीवाल ने अपना खालिस्तानी प्रेम जगज़ाहिर कर दिया था.

एक अन्य ट्वीट में बग्गा ने लिखा, अख़लाक़ की मृत्यु पर दादरी जाने वाले केजरीवाल ने सुधीर सूरी जी की हत्या पर चुप्पी साध ली है?पुलिस के सामने हत्या कर दी गई लेकिन केजरीवाल की पुलिस कुछ नही कर पाई। चुनाव में ख़ालिस्तनियों के घर सोने वाले केजरीवाल अगर क़ानून व्यवस्था देने में नाकाम हैं तो इस्तीफ़ा दे दे.

आपको बता दें कि जिस वक्त सुधीर सूरी को गोली मारी गई मौके पर भारी पुलिस बल और कई पुलिस अधिकारी मौजूद थे, पंजाब में मूर्तियों की बेअदबी के खिलाफ सुधीर सूरी मन्दिर में धरना दे रहे थे, इसी दौरान उन्हें गोली मारी गई, आनन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उनकी मृत्यु हो गई.

पंजाब के पुलिस महानिदेशक ( डीजीपी ) गौरव यादव ने कहा, गोपल नगर में गोपाल मंदिर के बाहर सूधीर सूरी को करीब 3:30 बजे गोली मारी गई थी। पुलिस उनको अस्पताल लेकर गई थी जहां उनकी मृत्यु हो गई। हमने 302 के तहत FIR दर्ज़ करली है। आरोपी संदीप सिंह को मौके से हिरासत में लिया है। हम उससे गहन पूछताछ करेंगे और मामले की तह तक जाएंगे। डीजीपी ने अमृतसर के लोगों से शान्ति बनाने और अफवाह पर यकीन न करने की अपील की है.

पंजाब में पुलिस के सामने ही हिन्दू नेता सुधीर सूरी की गोली मारकर हत्या, खौफनाक वीडियो वायरल

hindu-leader-sudhir-soori-murder-in-punjab-amritsar

पंजाब के अमृतसर में हिंदूवादी नेता सुधीर सूरी की गोली मारकर ह्त्या कर दी गई, जिस वक्त उन्हें गोली मारी गई मौके पर भारी पुलिस बल और कई पुलिस अधिकारी मौजूद थे, पंजाब में मूर्तियों की बेअदबी के खिलाफ सुधीर सूरी मन्दिर में धरना दे रहे थे, इसी दौरान उन्हें गोली मारी गई, आनन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उनकी मृत्यु हो गई.

पंजाब के पुलिस महानिदेशक ( डीजीपी ) गौरव यादव ने कहा, गोपल नगर में गोपाल मंदिर के बाहर सूधीर सूरी को करीब 3:30 बजे गोली मारी गई थी। पुलिस उनको अस्पताल लेकर गई थी जहां उनकी मृत्यु हो गई। हमने 302 के तहत FIR दर्ज़ करली है। आरोपी संदीप सिंह को मौके से हिरासत में लिया है। हम उससे गहन पूछताछ करेंगे और मामले की तह तक जाएंगे।

डीजीपी ने अमृतसर के लोगों से शान्ति बनाने और अफवाह पर यकीन न करने की अपील की है, सोशल मीडिया पर एक खौफनाक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें देखा जा सकता है कि सुधीर सूरी किसी पुलिस अधिकारी से बातचीत कर रहे हैं, इसी दौरान उनपर एक के बाद एक कई गोलियाँ बरसाई जाती हैं. हिंदूवादी नेता की सरेआम ह्त्या के बाद प्रदेश में आक्रोश है. पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. नीचे देखें वीडियो

छात्रा के सवाल पर महिला IAS का बेतुका जवाब, सैनिटरी पैड दिया तो कं'डोम भी मांगोगे

bihar-ias-harjot-kaur-bamrah-video-viral

एक कार्यक्रम में एक छात्रा ने अधिकारी से पूछा सरकार सबकुछ देती है तो सैनेटरी पैड क्यों नहीं दे सकती, इस सवाल का बेतुका जवाब देते हुए महिला आईएएस अधिकारी ने कहा, आज सैनेटरी पैड देंगे, कल को निरोध (कंडोम) भी मांगोगे, इस पूरे मामलें का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. बेतुका जवाब देने वाली हरजोत कौर बम्हरा 1992 बैच की आईएएस अधिकारी हैं और इस समय बिहार महिला एवं बाल विकास निगम की प्रमुख भी हैं। 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में देखा और सुना जा सकता है कि एक छात्रा पूछती है कि 'जब सरकार हमें स्कूल यूनिफॉर्म, स्कॉलरशिप और बहुत सी चीजें मुहैया करा रही है, तो वह 20-30 रुपये का सैनिटरी पैड क्यों नहीं दे सकती? इस सवाल का जवाब देते हुए महिला आईएएस अधिकारी हरजोत कौर बम्हरा ने कहा, क्यों सरकार आपको सब कुछ मुफ्त प्रदान करे? कल आप कहेंगे कि सरकार जींस उपलब्ध करा सकती है और उसके बाद कुछ सुंदर जूते क्यों नहीं? और अंत में, परिवार नियोजन के समय, आप सरकार से अपेक्षा करेंगे कि वह निरोध ( कंडोम ) भी प्रदान करे.

PFI पर बैन को समाजवादी पार्टी ने बताया गलत, कहा- देश में मुसलमानो पर ज्यादती हो रही है

samajwadi-party-gave-reaction-on-pfi-ban

कटटर इस्लामिक संगठन 'पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इण्डिया ( पीएफआई ) पर मोदी सरकार ने बैन लगा दिया है, इसके आलावा पीएफआई के कई सहयोगी संगठनों को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है, पीएफआई पर प्रतिबन्ध के बाद अब समाजवादी पार्टी का बयान सामने आया है, सपा ने पीएफआई पर बैन को गलत करार देते हुए कहा कि देश में मुसलमानो पर ज्यादती हो रही है.

उत्तर प्रदेश के सम्भल से सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए कहा, पीएफआई पर बैन पूरी तरह गलत है, देश में मुसलमानो पर ज्यादती हो रही है, उनकी आवाज़ दबाई जा रही है.

आपको बता दें कि हाल ही में देश के कई राज्यों में NIA ने छापेमारी की थी, 300 से ज्यादा पीएफआई के गुर्गों की गिरफ़्तारी हुई थी, जिसके बाद सरकार ने बड़ी कार्यवाही करते हुए इस संगठन पर ही प्रतिबंध लगा दिया। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के अलावा रिहैब इंडिया फाउंडेशन, कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया, ऑल इंडिया इमाम काउंसिल, NCHRO, नेशनल वीमेंस फ्रंट , जूनियर फ्रंट और एम्वायर इंडिया फाउंडेशन को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है.

अधिसूचना में केंद्र सरकार ने कहा कि पीएफआई कई आपराधिक और आतंकी मामलों में शामिल है, यह देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए एक बड़ा खतरा बन गया है। सार्वजनिक व्यवस्था को बिगाड़ते हैं और आतंक-आधारित प्रतिगामी शासन को प्रोत्साहित करते हैं। वैश्विक आतंकवादी संगठनों के साथ पीएफआई के अंतरराष्ट्रीय संबंधों के कई उदाहरण हैं और पीएफआई के कुछ कार्यकर्ता ISIS में शामिल हो गए हैं.

अंकिता के हत्यारोपी BJP नेता के बेटे के रिजॉर्ट पर पुष्कर धामी ने चलवाया बुलडोजर

ankita-bhandari-murder-case

ऋषिकेश में अंकिता भंडारी मर्डर केस में उत्तराखण्ड सरकार फुल एक्शन में है, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने स्पष्ट कह दिया है कि किसी भी सूरत में आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। अंकिता के हत्यारोपी पुलकित आर्य के रिजॉर्ट को कल बुलडोजर से ध्वस्त कर दिया गया. सीएम धामी ने ट्वीट के कहा, आज प्रातः काल बेटी अंकिता का पार्थिव शव बरामद कर लिया गया। इस हृदय विदारक घटना से मन अत्यंत व्यथित है। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने हेतु पुलिस उपमहानिरीक्षक पी. रेणुका देवी जी के नेतृत्व में SIT का गठन कर इस गंभीर मामले की गहराई से जांच के भी आदेश दे दिए हैं। आरोपियों के गैर कानूनी रूप से बने रिजॉर्ट पर बुल्डोजर द्वारा कार्रवाई भी कल देर रात की गई है। हमारा संकल्प है कि इस जघन्य अपराध के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

गौरतलब है कि ऋषिकेश में भाजपा नेता के बेटे पुलकित आर्य का एक रिजॉर्ट है, अंकिता उसमें बतौर रिशेप्सनिस्ट जॉब करती थी, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य और अन्‍य आरोपी अंकिता पर होटल ग्राहकों से शारीरिक सम्बन्ध बनाने का दबाव बनाते थे। लेकिन अंकिता ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। इसी को लेकर अंकिता और आरोपितों के बीच 18 सितंबर को विवाद हुआ था। जिसके बाद सभी आरोपी उसे अपने साथ घुमाने के लिए ले गए। रास्‍ते में तीनों के साथ अंकिता कि दोबारा कहासुनी हुई। इस दौरान उनके बीच हाथापाई भी हुई। जिससे अंकिता को धक्‍का लगा और वो नहर में गिर गई। आरोपित अंकिता को ऐसे ही छोड़ वापस रिसॉर्ट आ गए और सबको नई कहानी सुनाई। तीनों से पूछताछ की गई तो उन्‍होंने अपराध कबूल कर लिया।

कुंडा की महिला के साथ सपा नेता इस्लाम और मुख़्तार ने किया गैंगरेप, घर पर बुलडोजर पहुँचते ही किया सरेंडर

samajwadi-party-leader-islam-rape-women-in-pratapgarh

घर जाने के इंतजार में खड़ी एक महिला को लिफ्ट देकर दो लोगों ने दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। मानवता को शर्मसार करने वाली ये घटना उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले की है, जानकारी के अनुसार, बाबागंज विधानसभा के डेरवा बाजार में धारूपुर मोड़ के पास एक महिला के साथ जघन्य वारदात को अंजाम दिया, वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार थे, लेकिन घर पर बुल्डोजर पहुँचते ही पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया, महिला के साथ बलात्कार करने वाले युवकों की पहचान इस्लाम खान और मुख़्तार खान के रूप में हुई है, स्थानीय लोगों की माने तो आरोपी इस्लाम खान समाजवादी पार्टी से जुड़ा हुआ हैं.

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के पीड़ित महिला कुंडा की रहने वाली है, वह रानीगंज से वापस कुंडा जाने के लिए ऑटो के इंतजार में खड़ी थी, इसी दौरान दोनों आरोपी आये और उसे लिफ्ट देने का झांसा देकर अपनी कार में बैठा लिए. उसके बाद इन दोनों ने महिला के साथ जो दरिंदगी की वो बेहद शर्मनाक है. आरोपियों ने महिला को अपनी कार में बैठा लिया और फिर एक दोस्त के साथ उसे पोल्ट्री फार्म ले गया। कमरे में बंद दोनों ने महिला से दुष्कर्म किया।  चंगुल से छूटने के बाद महिला चौराहे पर पहुंची और आसपास के लोगों को घटना की जानकारी दी। 

महिला से दुष्कर्म की जानकारी मिलने पर वहां भीड़ जमा हो गई। घटना की सूचना मिलने पर जेठवारा एसओ अजीत शुक्ला बल के साथ मौके पर पहुंचे और पीड़ित महिला को थाने ले गए। पुलिस ने मामला दर्ज करके मुख्य आरोपी इस्लाम को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी सपा का नेता बताया जा रहा है। दूसरे आरोपी मुख़्तार को पकड़ने के लिए पुलिस छापेमारी कर थी, आरोपित मुख्तार के घर के सामने बुलडोजर खड़ा कर दिया गया। कुछ देर बाद ही उसने सरेंडर कर दिया। 

मामला दो समुदाय से जुड़ा होने के कारण इलाक़े में तनाव है, कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए पीएसी तैनात कर दी गई है, स्थानीय लोग आरोपी को कड़ी सजा देने की मांग कर रहे हैं. साथ ही घर को बुलडोजर से नेस्तनाबूत करने की भी मांग कर रहे हैं.


कांग्रेस नेता ने ब्राह्मणों को दी गाली, भाजपा बोली- कान पकड़कर मांगे माफ़ी

madhya-pradesh-congress-leader-kk-mishra-abused-brahmins

एक तरफ राहुल गांधी 'भारत जोड़ो यात्रा' कर रहे हैं दूसरी तरफ मध्यप्रदेश का एक कॉंग्रेस नेता ब्राह्मण समाज के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी कर रहा है, ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि क्या ऐसे ही भारत जुड़ेगा एक समाज को गाली देकर? मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया सेल अध्यक्ष केके मिश्रा का ब्राह्मण समाज पर अमर्यादित टिप्पणी करते एक वीडियो वायरल सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वो कह रहें हैं कि ब्राह्मण भी तो माद**# चमचागिरी करते हैं। 

वीडियो वायरल होने के बाद भाजपा और कई हिंदूवादी संगठनों ने कांग्रेस से इसपर कठोर कार्रवाई की मांग की है। वहीं केके मिश्रा ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि वो माफी नहीं मांगेंगे। वहां मौजूद लोग एक व्यक्तिगत विषय पर चर्चा कर रहे थे, जिसे किसी ने रिकॉर्ड कर गलत तरीके से पेश किया है। भाजपा युवा मोर्चा ने कल रीवा में केके मिश्रा का पुतला भी फूँका। साथ ही सवाल किया कि 'केके मिश्रा ने कमलनाथ के कहने पर ब्राह्मण समाज पर अभद्र टिप्पणी की या दिग्विजय सिंह के कहने पर, इसे स्पष्ट करें।

मध्यप्रदेश भाजपा के मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर ने कहा कि 'कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष ब्राह्मण समाज पर जो बोला है वह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरे संस्कार उस वीडियो को प्रसारित करने की इजाजत नहीं देते। के के मिश्रा को ब्राह्मण समाज से कान पकड़कर माफी मांगना चाहिए।

दरअसल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में देखा जा सकता है कि कांग्रेस नेता केके मिश्रा अपने कार्यालय में बैठे हुए हैं, कोई उनसे पूछ रहा है कि ब्राह्मणों के साथ अन्याय हुआ है झाबुआ में, इसपर केके मिश्रा ब्राह्मण समाज को गाली देते हुए कहते हैं कि ब्राह्मण  ब्राह्मण भी तो माद**# चमचागिरी करते हैं। 

'भारत जोड़ो यात्रा' के लिए गरीब सब्जी वाले ने नहीं दिया चंदा तो कॉंग्रेसियों ने की मारपीट

congress-bharat-jodo-yatra-news-in-hindi

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का एक सब्जी वाले से मारपीट करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, दावा किया जा रहा है कि सब्जी वाले ने 'भारत जोड़ो यात्रा' के लिए चंदा नहीं दिया तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने न सिर्फ उसके साथ मारपीट की बल्कि उसके दुकान में भी तोड़फोड़ की, ये मामला केरल के कोलम है, कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर आरोप है कि उन्होंने दुकानदार को जान से मारने की धमकी भी दे दी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, मारपीट करने में शामिल कांग्रेसियों में केरल के यूथ कांग्रेस के महासचिव भी शामिल थे.

समाचार एजेंसी के मुताबिक़, पीड़ित सब्जी विक्रेता एस.  फ़वाज ने बताया कि 'भारत जोड़ो यात्रा के लिए कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 2000 रूपये चंदा माँगा। जब में 500 रूपये दिया तो वह नाराज हो गए और सब्जियों को फेंक दिया, तराजू को भी नुकसान पहुंचाया। गौरतलब है राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा केरल पहुँच चुकी है.

कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा चंदा न देने पर सब्जी वाले से मारपीट करने का वीडियो वायरल होने के बाद अब भाजपा हमलावर हो गई है, भाजपा का कहना है कि ये 'भारत जोड़ो यात्रा' है कि वसूली यात्रा। स्मृति ईरानी ने तंज कसते हुए कहा, देश के लूटेरे अब सब्ज़ीवाले को लूटने लगे।

लखीमपुर में दलित बहनों की रेप के बाद हत्या, जुनैद, सुहैल, छोटू और आरिफ सहित 6 आरोपी गिरफ्तार

lakhimpur-case-police-arrested-6-accused

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में कल दो दलित बहनों की रेप के बाद ह्त्या कर दी गई, इस मामलें में यूपी पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के नाम छोटू गौतम, जुनैद, सुहैल, करीमुद्दीन, आरिफ, हफीजुर्रहमान हैं। पुलिस के मुताबिक़, आरोपियों ने पहले रेप किया, फिर फांसी पर लटका दिया।

इस मामलें में यूपी पुलिस ने प्रेस-कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, दोनों बहनों को बहला-फुसलाकर ले गए थे आरोपी, छोटू ने मुस्लिम लड़कों से दोस्ती कराई जिसके बाद जुनैद ने बड़ी बहन से और सुहैल ने छोटी बहन के साथ सम्बन्ध बनाये। जब लड़कियों ने शादी करने के लिए कहा तो छोटू, जुनैद, सुहैल, करीमुद्दीन, आरिफ, हाफिज ने उन्हे मार दिया। लड़की इनसे पहले से ही परिचित थी, बाइक से ही आरोपी लड़कियों को लाये थे और इच्छा के विरुद्ध शारीरिक सम्बन्ध बनाये।

शव का पोस्टमॉर्टम परिवार के सामने किया जा रहा है, वहां परिजन मौजूद हैं. परिवार को सामने रख कर ही सभी प्रक्रिया पूरी की जा रही है, पुलिस ने कहा, आरोपियों से अभी कई और बिंदुओं पर पूछताछ बाकि है.

उधर राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा कर रहे हैं, ईधर गोवा में कांग्रेस के 8 विधायक टूट गए

8-congress-mla-join-bjp-in-goa

एक तरफ राहुल गांधी 'भारत जोड़ो यात्रा' पर निकले हैं, दूसरी तरफ कांग्रेस के 8 विधायक टूट गए, जी हाँ! गोवा की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस के आठ विधायक आज भाजपा में शामिल होंगे। जिसमें माइकल लोबो और दिगंबर कामत शामिल हैं, अब कांग्रेस के पास गोवा में सिर्फ 3 विधायक बचेंगे। गोवा विधानसभा चुनाव खत्म हुए साल भर भी नहीं बीते। गोवा कांग्रेस में हुई टूट लेकर सोशल मीडिया पर लोग कह रहे हैं कि राहुल गांधी को पहले कांग्रेस जोड़ना चाहिए। भारत जोड़ो यात्रा के तहत राहुल गाँधी इस समय केरल में हैं. ये यात्रा 150 दिनों तक चलेगी।

आपको बता दें कि गोवा में कांग्रेस के 11 विधायक हैं, इनमें से आठ विधायकों ने आज गोवा के मुख्यमंत्री डॉ प्रमोद सावंत से मुलाक़ात की, मुलाक़ात करने वालों में दिगंबर कामत, माइकल लोबो, दलीला लोबो, राजेश फलदेसाई, केदार नाइक, संकल्प अमोनकर, एलेक्सी सिकेरा और रूडोल्फ फर्नांडीस शामिल है, ये सभी विधायक दोपहर तक भाजपा में शामिल हो जाएंगे। 

बिहार के बेगूसराय में दिल दहला देने वाली वारदात, सड़क किनारे चल रहे 11 लोगों को मारी गई गोली

firing-in-bihar-begusarai

बिहार के बेगूसराय से दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई हैं, बेगूसराय में अलग-अलग जगहों में 11 लोगों को गोली मारी गई है, जिसमें से एक की मौत की खबर आ रही है कि बाकि 10 लोगों का अलग-अलग अस्पतालों में ईलाज जारी है, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, बेगूसराय में शाम लगभग छह बजे से बाइक पर सवार दो अपराधी आतंकियों की तरह पिस्तौल से गोली चलाते बेगूसराय जिले के बरौनी थाना क्षेत्र से तेघड़ा थाना व बछवाड़ा थाना क्षेत्र में बढ़ते जा गए, अभी तक सड़क किनारे जा रहे 11 लोगों को गोली मार चुके हैं। इस गोलीकांड से पूरे जिले में हड़कंप मच गया है, अपराधियों का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है.

क्या सोनाली फोगाट की हुई है हत्या? पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा

sonali-phogat-post-mortem-report-news-in-hindi

हरियाणा की टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की दो दिन पहले गोवा में मृत्यु हो गई थी, उस समय कहा जा रहा था कि दिल का दौरा पड़ने से 42 वर्षीय सोनाली फोगाट की मौत हुई, लेकिन परिवार वाले यह मानने को तैयार नहीं थे कि सोनाली की मौत हार्ट अटैक से हुई! परिवार वाले जो आशंका जता रहे थे कहीं न कहीं अब वह सही साबित हो रहा है, सोनाली फोगाट की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है, उसमें कुछ चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सोनाली फोगाट की शरीर पर 4-5 चोट के निशान मिले हैं. 

गोवा पुलिस ने बीजेपी नेता सोनाली फोगाट की मौत के मामले में हत्या का मामला दर्ज किया है. सोनाली के परिवार द्वारा की गई शिकायत के बाद आईपीसी की धारा 302 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।  गौरतलब है कि 23 अगस्त को सोनाली फोगाट के मौत की खबर आई थी, उनकी बहन ने साजिश का आरोप लगाते हुए कहा था, "सोनाली को खाना खाने के बाद असहज महसूस हुआ"। सोनाली फोगाट के निधन पर गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा, हम इस मामले को गंभीरता से ले रहे हैं। DGP खुद निगरानी कर रहे हैं।

गड्ढों की वजह से होने वाली हर सड़क दुर्घटना के लिए जिले का कलेक्टर होगा जिम्मेदार: हाईकोर्ट

kerala-high-court-gave-statement-on-road-accident

सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे होने की वजह से सड़क दुर्घटनाएं बढ़ गई हैं, अब केरल हाईकोर्ट ने एक महत्वपूर्ण आदेश में फैसला सुनाया है कि गड्ढों की वजह से होने वाली हर सड़क दुर्घटना के लिए जिला कलेक्टर/जिलाधिकारी यानी DM जिम्मेदार होंगे। अदालत ने यह भी निर्देश दिया है कि विभिन्न जिला कलेक्टरों के अधीन अधिकारियों को आपदा प्रबंधक प्राधिकरण के साथ हर सड़क का दौरा करना चाहिए और यह सुनिश्चित करने के लिए निर्देश दिया जाना चाहिए कि सड़कें गड्ढा मुक्त हों ताकि कोई दुर्घटना न हो सके। जस्टिस देवन रामचंद्रन ने 19 अगस्त को एक विस्तृत आदेश में यह टिप्पणी की.

केरल हाईकोर्ट के जस्टिस देवन रामचंद्रन ने गड्ढों के लिए साफ तौर पर भ्रष्टाचार को जिम्मेदार ठहराते हुए जिले के प्रशासनिक मुखिया को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने सड़क दुर्घटनाओं पर तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि खराब सड़को की प्रमुख वजह भ्रष्टाचार या लापरवाही है। अगर कोई भ्रष्ट है, तो कोई और मरेगा। मैं ऐसा नहीं होने दे सकता। केरल हाईकोर्ट के इस आदेश की जमकर तारीफ हो रही है. क्योंकि सड़कों पर गड्ढों की वजह से अक्सर दुर्घटनाएं होती रहती हैं.


पूर्व मंत्री शाहनवाज हुसैन के खिलाफ दर्ज होगा रेप का मामला, दिल्ली हाईकोर्ट ने दिया आदेश

rape-case-against-shahnawaz-hussain

भाजपा नेता और पूर्व मंत्री शाहनवाज हुसैन के खिलाफ रेप का मामला दर्ज होगा, दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश के बाद ये कार्यवाही होगी। 2018 के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने दुष्कर्म सहित अन्य धाराओं में FIR का आदेश देकर पुलिस को 3 महीने में जांच पूरी करने को कहा है. शाहनवाज हुसैन पर छतरपुर के फार्म हाउस में नशीला पदार्थ खिलाकर रेप का आरोप है!

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक़, दिल्ली की एक महिला ने आरोप लगाया कि शाहनवाज हुसैन ने 12 अप्रैल, 2018 को अपने छतरपुर फार्महाउस में उसे नशीला पदार्थ दिया और उसके साथ बलात्कार किया, हालांकि पूर्व मंत्री ने यह कहते हुए आरोपों का खंडन किया था कि उसका उसके भाई के साथ विवाद था और महिला ने उसे अनावश्यक रूप से इस मामलें में घसीटा था.

अभियोजन पक्ष के अनुसार महिला ने पहली बार 16 जून, 2018 को पुलिस से संपर्क किया। हालांकि, जुलाई में उसने यह दावा करते हुए एक स्थानीय अदालत का दरवाजा खटखटाया कि पुलिस में उसकी शिकायत अनसुनी हो गई है। मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने महिला की याचिका पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया और पुलिस से जवाब मांगा।


क्या जंगलराज की तरफ बढ़ा बिहार? नीतीश-तेजस्वी के 72% मंत्रियों पर दर्ज हैं आपराधिक मामलें

bihar-gov-news-in-hindi

बिहार में सरकार बदल गई है, अब जेडीयू-आरजेडी की सरकार है और नीतीश कुमार मुख्यमंत्री तथा तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम हैं, नीतीश कैबिनेट में 72 प्रतिशत मंत्री हैं जिनपर आपराधिक मामलें दर्ज हैं, ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि क्या बिहार एक बार जंगलराज की तरह बढ़ रहा है, क्योंकि जिस राज्य के मंत्री ही आपराधिक किस्म के हैं, उस राज्य का भला कैसे हो पायेगा।

Association for Democratic Reforms (ADR) की रिपोर्ट के मुताबिक, नीतीश सरकार के 72 फीसदी मंत्रियों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं, बिहार के नए कानून मंत्री को लेकर विवाद शुरू हो गया है, जिन्हें कैबिनेट मंत्री के रूप में अपने शपथ ग्रहण समारोह के दिन अदालत के सामने उपस्थित होना था। बिहार के कानून मंत्री, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के कार्तिकेय सिंह को अपहरण के एक मामले में 16 अगस्त को दानापुर अदालत में आत्मसमर्पण करना था, लेकिन इसके बजाय, वह पटना राजभवन में नीतीश कुमार के नए मंत्री के रूप में शपथ ले लिए.

इससे पहले 12 अगस्त को राजद नेता कार्तिकेय सिंह को अदालत ने एक सितंबर तक अंतरिम सुरक्षा प्रदान की थी। भाजपा नीतीश सरकार पर हमलावर है. 16 अगस्त के बाद जारी एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार, बिहार कैबिनेट में शपथ लेने वाले 33 मंत्रियों में से 32 का विश्लेषण किया गया। बिहार कैबिनेट की कुल संख्या में से 27 (72 प्रतिशत) ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं।

बिहार में सरकार बदलते ही शुरू हुई गुंडई, पत्रकार अंजना ओम कश्यप को भीड़ ने घेरकर की...?वीडियो

bisbehav-happened-with-Anjana-om-Kashyap-in-Patna

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कल ( 9 अगस्त ) को NDA छोड़कर महागठबंधन में शामिल हो गए, आज नीतीश कुमार मुख्यमंत्री की शपथ लेंगे। पहले बिहार में भाजपा-जदयू सरकार थी, अब बिहार में जदयू-आरजेडी की सरकार होगी, इसके अलावा महागठबंधन में शामिल कांग्रेस सहित कई अन्य दल भी सरकार में शामिल हो सकते हैं. बिहार में सरकार बदलते ही गुंडागर्दी शुरू हो गई, जी हाँ! बिहार में हुए राजनीतिक उलटफेर को कवर करने पटना पहुँची आजतक की वरिष्ठ पत्रकार अंजना ओम कश्यप के साथ बदसलूकी हुई, हजारों की भीड़ ने अंजना को घेरकर घटिया नारेबाजी की. 

अंजना के साथ हुई बदसलूकी की निंदा करने के बजाय कांग्रेस और आरजेडी जमकर जश्न मना रही हैं. और फिर यही लोग महिलाओं के सम्मान का नाटक करते हैं। सड़कों की दुश्वारियां के बीच काम कर रही एक पत्रकार को टारगेट बनाना आसान है, लेकिन उस जैसा खासकर अंजना ओम कश्यप बनना मुश्किल। जिस बिहार की लड़की ने तमाम मुश्किलों और हालातों के बीच मुकाम हासिल किया उसे अपने ही घर में निशाना बनाया जाए यह शर्मनाक! असहमति जताने का तरीका हुल्लड़बाजी नहीं हो सकता।

अंजना ओम कश्यप के साथ हुई बदसलूकी का वीडियो शेयर करते हुए बिहार राजद के ट्विटर हैंडल से लिखा गया, 'देश को उदाहरण के साथ यह विज्ञान सिर्फ बिहार ही समझा सकता है: "बिहार, उड़ती चिड़िया और हल्दी"