Follow by Email

Total Pageviews

Blog Archive

Search This Blog

BJP ने हमें इतने दिन आन्दोलन करना सिखाया, लेकिन हमारे आन्दोलन पर ऑंखें बंद हैं: सूरज पाल अमू

Share it:
surajpal-amu-slams-bjp-leader-modi-sarkar-sangh-on-padmavat

गुरुग्राम: संजय लीला भंसाली ने अपनी फिल्म पद्मावती का नाम बदलकर अब पद्मावत कर दिया है और 25-26 जनवरी को रिलीज करने का ऐलान कर दिया है. अभी तक राजपूत समाज के लोगों की फिल्म को लेकर नाराजगी ख़त्म नहीं हुई है. इसी बात को लेकर आज राजपूत नेता सूरज पाल अमू ने फिर से प्रतिक्रिया दी और संजय लीला भंसाली के साथ साथ सरकार में बैठे लोगों को भी चेतावनी दी.

उन्होंने कहा कि हम लोग इस फिल्म का विरोध करेंगे, हमें भी अपनी बात रखने का हक है चाहे सरकार माने या ना माने, राज्य वर्धन सिंह राठौर जी, स्मृति ईरानी जी और भारत सरकार अगर हमारी बात को नहीं सुनती तो निश्चित तौर पर कहीं ना कहीं गड़बड़ है. या तो भारत सरकार के लोग ये नहीं चाहते कि हम लोग अपनी बातें रखें, अपना पक्ष रखें, या भारतीय जनता पार्टी के जो वरिष्ठ लोग हैं, जिनसे हम लोगों ने आन्दोलन करना सीखा है, जिन लोगों ने हम लोगों को आन्दोलन करना सिखाया है, अगर वे आज हमारे आन्दोलन की भाषा नहीं समझ रहे हैं तो हम उनसे सवाल पूछना चाहते हैं - क्यों हमें इतनी दिनों तक आन्दोलन करना सिखाया, क्यों हमें अन्याय के खिलाफ लड़ना सिखाया, अब अन्याय हो रहा है तो आप हमारी बात सुन नहीं रहे हैं.

उन्होंने कहा कि - संघ परिवार के लोगों ने हमें अन्याय के खिलाफ लड़ना सिखाया. आज हम जिस पद पर हैं उसके लिए संघ परिवार के लोगों का सहयोग एवं आशीर्वाद रहा है परन्तु आप लोगों ने जो चीजें सिखाई हैं, अब उनको मान नहीं रहे हैं, अब क्या कहें हम लोगों से, कि, आप हमारी नहीं सुन रहे हैं.

उन्होंने कहा कि एक व्यापारी आता है, फिल्म बनाता है, हमारी भावनाओं को ठेस पहुंचाता है और आप उसे फिल्म बनाने और रिलीज करनी की अनुमति देते हैं, मुझे लगता है कि ये हिंदुस्तान के लोगों के साथ धोखा है. मुझे इस बात का दुःख है.

Share it:

India

Politics

Post A Comment:

0 comments: