Jan 5, 2018

बड़ा सवाल, क्या बॉबी कटारिया को मिल रही है मैक्स हॉस्पिटल में ताला लगवाने की सजा, पढ़ें जरूर


bobby-kataria-seize-max-hospital-later-arrested-by-gurugram-police

गुरुग्राम: बॉबी कटारिया इस वक्त सोशल मीडिया पर सबसे चर्चित विषय है, बॉबी इस वक्त फरीदाबाद की नीमका जेल में बंद हैं, इससे पहले वे गुरुग्राम पुलिस द्वारा 6 दिन की रिमांड पर लिए गए थे, वहां पर कथित रूप से उनके साथ थर्ड डिग्री टॉर्चर किया गया जो सिर्फ आतंकवादियों और बहुत बड़े बड़े अपराधियों के साथ किया जाता है, उसके बाद उन्हें फरीदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया और दो दिन के लिए रिमांड पर लिया गया, दो दिन के बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया और अब उन्हें नीमका जेल में बंद किया गया है.

यहाँ पर गुरुग्राम पुलिस और फरीदाबाद पुलिस पर बड़े बड़े सवाल उठ रहे हैं, लोग पूछ रहे हैं कि आखिर बॉबी कटारिया ने किया क्या था कि गुरुग्राम पुलिस ने उसे बिना FIR और वारंट के गिरफ्तार कर लिया और उसे 6 दिनों तक रिमांड पर लेकर थर्ड डिग्री टॉर्चर किया.

आपको बता दें कि गिरफ्तार किये जाने के दिन बॉबी कटारिया ने गुरुग्राम पुलिस के दो SHO को गालियाँ दी थीं लेकिन इससे पहले पुलिस वालों और बॉबी के बीच अनबन थी जिसकी वजह से बॉबी ने भी इन्हें गालियाँ दी थीं. रात में बॉबी को गिरफ्तार करने के बाद गुरुग्राम पुलिस ने बॉबी कटारिया पर तीन धाराएं लगाई है - 323, 504 और 386. इनमें से 323, 504 बहुत छोटी धाराएं हैं और उसके लिए हैण्ड तो हैण्ड जमानत मिल जाती है, 386 की धारा जबरन वसूली की धारा है, उसके बारे में पुलिस ने कहा है कि उसनें फेसबुक पर अपने NGO का अकाउंट नंबर और पे-टीएम नंबर दिया है. इस आधार पर पुलिस ने जबरन वसूली का केस बना दिया.

क्या किसी बड़ी ताकत ने मीडिया को खरीद लिया

आपको बता दें कि बॉबी कटारिया का मामला बहुत हाई लाइट में चल रहा है लेकिन अब तक किसी भी राष्ट्रीय मीडिया ने बॉबी का हाल चाल नहीं लिया है जबकि गिरफ्तार किये जाने से पहले बॉबी कटारिया के खिलाफ कोई भी आपराधिक केस नहीं था. मीडिया पर कई सवाल उठ रहे हैं, कुछ लोग कह रहे हैं कि किसी बड़ी ताकत ने मीडिया को खरीद लिया है इसलिए मीडिया बॉबी की खबर नहीं छाप रहा है.

क्या मैक्स को सीज करने की बॉबी कटारिया को मिल रही है सजा

आपको बता दें कि बॉबी कटारिया ने ही वह आदमी था जिसने मैक्स हॉस्पिटल को सीज कराया, मैक्स हॉस्पिटल में जिस दिन जिन्दा बच्चे को मरा घोषित किये जाने की घटना हुई थी तो 125 करोड़ लोगों में से सिर्फ बॉबी कटारिया वहां पहुंचा था और उसकी मेहनत की वजह से मैक्स हॉस्पिटल सीज हुआ था. अब लोग आशंका जाहिर कर रहे हैं कि क्या मैक्स हॉस्पिटल ने बदला लेने के लिए गुरुग्राम पुलिस के द्वारा बॉबी कटारिया को गिरफ्तार करवाया. क्योंकि बॉबी के खिलाफ इस एक्शन के लिए कई पुलिस वालों की नौकरी जा सकती है.

अब सवाल यह है कि क्या गुरुग्राम और फरीदाबाद पुलिस मीडिया को खरीद सकती है, लोग बोलेंगे नहीं. तो मीडिया को कौन खरीद सकता है. उत्तर है बहुत बड़ा आदमी. बहुत बड़ा आदमी कौन हो सकता है. कौन बॉबी कटारिया पर इतनी बड़ी कार्यवाही करा सकता है. वही करा सकता है जिसके पास बहुत पैसा हो, बहुत पॉवर हो, जिसका बॉबी कटारिया ने बहुत बड़ा नुकसान कराया हो, जिसकी बॉबी कटारिया की वजह से बदनामी हुई हो. जिसकी राजनीति में बहुत ऊपर तक पहुँच हो.

अब शक सीधा मैक्स हॉस्पिटल की तरफ जा रहा है क्योंकि मैक्स हॉस्पिटल ही पुलिस को खरीद सकता है, सरकार को भी खरीद सकता है, मीडिया को भी खरीद सकता है और कुछ भी करा सकता है. जजों को भी खरीद सकता है, वरना गुरुग्राम के जज इन छोटी धाराओं में बॉबी को 6 दिन की रिमांड में भेजते ही नहीं.

क्या धन सिंह भडाना के खिलाफ बोलना पड़ा मंहगा

एक दूसरे आदमी का नाम आ रहा है जिनका नाम है धन सिंह भडाना, ये अरावली इंटरनेशनल स्कूल के मालिक हैं और बहुत अमीर आदमी हैं, बॉबी ने इनके खिलाफ भी बोला था लेकिन इनसे दूसरे दिन हाथ जोड़कर माफी मांगी थी, माफी मांगे जाने के बाद धन सिंह भड़ाना इतनी बड़ी कार्यवाही नहीं करा सकते लेकिन स्कूल की प्रिंसिपल रीमा रॉय की FIR पर बॉबी को फरीदाबाद पुलिस ने गुरुग्राम से गिरफ्तार किया  और 2 दिन की रिमांड के बाद उन्हें नीमका जेल में बंद किया गया है. कुछ लोग कह रहे हैं कि बॉबी कटारिया को दोनों ने बीजेपी सरकार की मदद से ऐसी सजा दिलवाई है. फिलहाल कुछ दिनों में सब सामने आ जाएगा लेकन बॉबी के साथ ऐसा बर्ताव किये जाने की वजह से खट्टर सरकार ने अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मार ली है. लाखों युवा अब शायद ही खट्टर के नाम पर वोट करें.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: