Nov 18, 2017

दो पत्रकारों को फिल्म दिखाकर भंसाली ने दिखायी चालाकी, लोग बोले, भंसाली ने इनको खरीद लिया


sanjay-leela-bhansali-criticized-buy-two-big-journalist-for-positive-review

नई दिल्ली: करणी सेना की अगुवाई में सम्पूर्ण राजपूत समाज संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती का विरोध कर रहा है लेकिन संजय लीला भंसाली इससे बहुत खुश है क्योंकि उसकी फिल्म का फ्री में प्रमोशन हो रहा है, उसकी फिल्म का जितना अधिक विरोध होगा, लोगों में मन में फिल्म देखने की उतनी ही उत्सुकता बढेगा, इसके बाद जब फिल्म रिलीज होगी तो लोग भूखे कुत्ते की तरह फिल्म पर टूट पड़ेंगे.

संजय लीला भंसाली एक तरह तो राजपूतों के गुस्से को बढ़ा रहा है और दूसरी तरफ मीडिया में अपनी फिल्म का प्रमोशन कर रहा है, आज उसनें दो बड़े पत्रकारों रजत शर्मा और अर्नब गोस्वामी के लिए विशेष स्क्रीनिंग की व्यवस्था की, दोनों ने फिल्म को देखा और पॉजिटिव रिएक्शन दिया, ट्विटर पर दोनों ने लिखा, बहुत अच्छी फिल्म है, इसमें राजपूतों का कहीं से भी अपमान नहीं किया गया है उलटा संजय लीला भंसाली ने राजपूतों को अनमोल गिफ्ट दिया है.

दोनों पत्रकारों के इस प्रकार के रिएक्शन से कुछ लोगों का कहना है कि संजय लीला भंसाली ने इन पत्रकारों को खरीद लिया है, इनके मुंह में करोड़ों रुपये ठूंस दिए गए होंगे जिसके बाद ये फिल्म की तारीफ कर रहे हैं, महारानी पद्मावती को फिल्म में नचनियां के रूप में दिखाया गया है, महफ़िल में उन्हें नाचता हुआ दिखाया गया है जबकि राजपूत महारानियाँ इस तरह से कमर हिला हिलाकर नाचती नहीं थीं. इतिहास के साथ छेड़छाड़ किया गया है.

कुछ राजपूतों का कहना है कि पहले तो संजय लीला भंसाली ने इतिहास के साथ ही छेड़छाड़ किया था लेकिन अब मीडिया और पत्रकारों को खरीदकर उनके जरिये राजपूतों के बारे में उलटी सीधी ख़बरें छपवा रहा है. राजपूतों को दंगाई लिखवा रहा है, उनपर लोगों को मूर्ख बनाने का आरोप लगवा रहा है.

संजय लीला भंसाली की इस चालाकी से सेंसर बोर्ड भी नाराज है, संजय लीला भंसाली की फिल्म को सर्टिफिकेट देने से इनकार कर दिया गया है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: