Oct 18, 2017

UNSC में भारत शामिल हो सकता है लेकिन बिना वीटो के, छठा पॉवरफुल देश बनने के लिए भारत तैयार


india-may-be-injected-in-unsc-without-veto-6th-powerful-country

वॉशिंगटन: पांच देश दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश हैं, ये पाँचों यूनाइटेड नेशन सिक्यूरिटी काउंसिल (UNSC) के सदस्य हैं और पाँचों के पास वीटो पॉवर है. अगर पाँचों देश चाह लें तो किसी भी देश को मिनटों में तबाह कर सकते हैं लेकिन अगर पांच में से एक भी सहमत ना हो तो चार देश कुछ भी नहीं कर सकते. ये पाँचों देश हैं - अमेरिका, चीन, रूस, फ़्रांस और ब्रिटेन.

भारत कई वर्षों से मांग कर रहा है कि UNSC में सुधार किया जाय और अन्य देशों को भी उसमें शामिल किया जाय लेकिन पाँचों देश इसके लिए तैयार नहीं हैं क्योंकि अगर अन्य देशों को इसमें शामिल किया जाएगा तो उनकी ताकत बंट जाएगी और उनकी दादागिरी भी ख़त्म हो जाएगी.

अब इस लिस्ट में भारत को भी शामिल करने की चर्चा चल रही है लेकिन शर्त यह है कि भारत को वीटो नहीं मिलेगा. वीटो पाँचों देश के पास ही रहेंगे. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत को अमेरिका, ब्रिटेन और फ़्रांस का पक्का समर्थन हासिल है लेकिन रूस और चीन इसके लिए तैयार नहीं हैं. अगर दोनों देश तैयार हो जाँय तो भारत को वीटो भी दिया जा सकता है लेकिन फ़िलहाल ऐसा होता नजर नहीं आ रहा है क्योंकि चीन से भारत की खटपट चल रही है और रूस की अमेरिका से खटपट चल रही है. भारत अमेरिका के जितना करीब जा रहा है रूस को उतनी जलन हो रही है.

कल संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निकी हैली ने कहा कि यदि भारत सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता चाहता है तो उसे वीटो पर अपनी रट छोड़नी होगी। यानी भारत को स्थायी सदस्यता मिलेगी भी तो उसके पास किसी प्रस्ताव पर वीटो करने का अधिकार नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि अमेरिका कांग्रेस चाहकर भी भारत को UNSC का सदस्य नहीं बना सकता है क्योंकि वहां पर वीटो वाले देशों की चलती है, भारत को स्थायी सदस्यता के लिए ज्यादा से ज्यादा समर्थन जुटाना होगा. अगर पाँचों देश राजी होते हैं तो भारत को वीटो के साथ UNSC में शामिल किया जा सकता है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: