Sep 11, 2017

सरकारी स्कूलों को नरक बनाकर प्राइवेट स्कूलों में जाने को मजबूर करने वालों को जनता सिखाती है सबक


janta-has-no-option-othar-than-private-school-sarkari-school-narak

आज भारत में ऐसी हालत हो गयी है कि प्राइवेट स्कूलों में कोई भी माँ-बाप अपने बच्चों को नहीं पढ़ाना चाहता लेकिन लोग मजबूर हैं, लोगों के पास और कोई आप्शन ही नहीं है, सरकारी स्कूलों को तो सरकारों ने नरक बना रखा है, वहां पर ऐसी गन्दगी मचा रखी है कि सिर्फ अति पिछड़े लोग ही पढने जाते हैं. माध्यम परिवार का कोई भी आदमी अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में भेजना ही नहीं चाहता. सरकारी स्कूलों को सरकारों ने नरक बना रखा है इसलिए माँ-बाप अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में भेजने को मजबूर हैं.

आपको जानकार ताज्जुब होगा कि सरकार जान बूझकर सरकारी स्कूलों में कोई सुधार नहीं कर रही है क्योंकि प्राइवेट स्कूलों से इनकी मिलीभगत होती है, प्राइवेट स्कूल चाहते ही नहीं कि सरकार सरकारी स्कूलों की हालत ठीक करे, वहां पर मॉडर्न इंफ्रास्ट्रक्चर बनाए. अच्छे पार्क हों, अच्छा इंफ्रास्ट्रक्चर होगा तो अच्छे टीचर भी आएँगे और बच्चों को अच्छी शिक्षा भी मिलेगी. अगर जनता सरकारी स्कूलों में जाना शुरू कर देगी तो प्राइवेट स्कूल लूट नहीं पाएंगे इसलिए ये लोग सरकार से मिल जाते हैं, इनकी पार्टियों को मोटा चंदा देते हैं और खूब लूटते हैं.

जनता ऐसी सरकारों को हमेशा सबक सिखाती रही है जो लोग उनके बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में भेजने को मजबूर करते हैं, जनता ने हरियाणा में कांग्रेस सरकार को भी सबक सिखाया था और बीजेपी को मौका दिया था लेकिन बीजेपी ने भी सरकारी स्कूलों को नरक बनाकर रखा है, अब तक कोई सुधार नहीं किया, कोई काम नहीं किया, जो हालत कांग्रेस के समय में थी, वही हालत आज खट्टर-बीजेपी के समय में है.

आपने देखा होगा कि पिछले चुनावों में यूपी में जनता ने अखिलेश को भी सबक सिखाया, उत्तराखंड में कांग्रेस को सबक सिखाया. जनता बीजेपी को इसलिए नहीं चुन रही है कि ये बहुत अच्छे हैं, बल्कि इसलिए चुन रही है क्योंकि जनता बीजेपी को एक मौका देना चाहती है लेकिन बीजेपी सरकार भी स्कूलों के मामले में बहुत ढीली है, अब तक कोई काम नहीं हुआ. सिर्फ गुजरात और मध्य प्रदेश को छोड़कर. दोनों राज्यों में जरूर कुछ बदलाव है है लेकिन मोदी सरकार ने भी शिक्षा को उतना माहत्व नहीं दिया जितना देना चाहिए.

कहने का मतलब है यह कि चाहे बीजेपी हो या कांग्रेस हो, जिन्होंने भी जनता को प्राइवेट स्कूलों में भेजने को मजबूर किया और सरकारी स्कूलों को नरक बनाकर रखा, उन्हें हमेशा सबक सिखाया है, समाजवादी पार्टी को सबक सिखाया, कांग्रेस को सबक सिखाया, अब अगर बीजेपी वालों ने भी सरकारी स्कूलों की हालत में सुधार नहीं किया तो जनता इन्हें भी घर भेजेगी.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: