Aug 12, 2017

योगी ने अखिलेश यादव और अस्पताल में ऑक्सीजन बंद करने वाले सप्लायर के रिश्ते का किया खुलासा: पढ़ें


yogi-adityanath-expose-akhilesh-yadav-and-oxygen-supplier-repation

अगर उत्तर प्रदेश के गोरखपुर कांड की सही से जांच की जाए तो इसमें अखिलेश यादव भी फंस सकते हैं क्योंकि आज स्वयं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव और ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी के बीच संबंधों का खुलासा किया है. कहा जा रहा है कि इस कंपनी के ऑक्सीजन सप्लाई रोकने से ही BRD मेडिकल कॉलेज में 65 बच्चों की मौत हुई है.

अखिलेश यादव ने कहा कि अगर ऑक्सीजन सप्लाई बाधित होने से मौतें हुई हैं तो यह बेहद जघन्य अपराध है और इसमें सप्लायर की भूमिका महत्वपूर्ण है क्योंकि उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार के गठन के बाद ही इस बारे में सभी विभागों को स्पष्ट निर्देश दिए गए थे कि इमरजेंसी सेवाओं में कोई भी व्यवधान ना आने पाए, आवश्यक कार्यों में किसी भी तरह से पैसे की कमीं ना होने पाए और सभी मंत्रालय पहले से व्यवस्था सुनिश्चित करें.

उन्होंने कहा कि सप्लायर की भूमिका की जांच करने के लिए हमें चीफ सेक्रेटरी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की है, वे एक हप्ते के अन्दर सप्लायर की भूमिका की जांच करेंगे क्यूंकि इस सप्लायर को 2014 में 8 वर्ष के लिए पिछली अखिलेश सरकार ने ठेका दिया था. हम सप्लायर की जांच कर रहे हैं और नतीजे आने के बाद आपको बताया जाएगा.

उन्होंने सभी मीडियाकर्मियों से अनुरोध करते हुए कहा कि अगर हम सही तथ्यों को रख पाएंगे तो मानवता की बहुत बड़ी सेवा होगी और खासतौर से तब जब हम किसी संवेदनशील मुद्दे को उठा रहो हों. उन्होंने कहा कि आप लोग ख़बरें छापिये लेकिन अलग अलग आंकडें न दें और जनता को भ्रमित ना करें.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: