Aug 31, 2017

अमित शाह को मोदी दे सकते हैं सबसे बड़ा मंत्रालय, तो इसलिए बना दिया राज्य सभा सांसद: पढ़ें


rumor-amit-shah-may-be-next-defense-minister-of-india-news-hindi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जल्द ही अपनी कैबिनेट का फेरबदल करने वाले हैं. इसी महीनें में नवरात्रि से पहले मोदी कैबिनेट का विस्तार और फेरबदल हो सकता है. इस बात का इशारा आज वित्त और रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने दिया है. अरुण जेटली ने यह भी इशारा किया कि वह अधिक समय तक रक्षा मंत्री का प्रभार नहीं संभालेंगे लेकिन इसका निर्णय मोदीजी लेंगे.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देश को इस वक्त एक ताकतवर रक्षा मंत्री की जरूरत है. ऐसा रक्षा मंत्री जिसका नाम सुनकर दुश्मन थर्राते हों. इस वक्त मोदी के अलावा राजनाथ सिंह के नाम से ही दुश्मन थर थर कांपते हैं. दोनों के अलावा एक और नेता हैं जिनके नाम से दुश्मन थर्राते हैं और उनका नाम है अमित शाह.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मंत्री बनने के लिए लोकसभा या राज्य सभा का सदस्य होना जरूरी होता है. अमित शाह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं. हाल ही में जब उन्हें राज्य सभा सदस्य बनाया गया तो लोगों को समझ में नहीं आया कि आखिर अमित शाह को राज्य सभा क्यों लाया जा रहा है. लेकिन अब इसकी गुत्थी सुलझने लगी है. सूत्र बता रहे हैं कि अमित शाह को प्रधानमंत्री मोदी देश का रक्षा मंत्री बनाना चाहते हैं.

अगर सब कुछ सही रहा तो अमित शाह देश के रक्षा मंत्री बनेंगे और बीजेपी का राष्ट्रीय अध्यक्ष किसी और को बनाया जाएगा. रामलाल बीजेपी के अध्यक्ष पद की दौड़ में सबसे आगे हैं क्योंकि बूथ लेवल पर बीजेपी की रणनीति वही बनाते हैं और उन्हें अमित शाह की तरह ही रणनीति बनाने का अनुभव है. साथ ही वह आरएसएस से भी जुड़े हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कांग्रेस पार्टी के नेता हमेशा मोदी को ताने मारते रहते हैं कि वे देश को एक फुल टाइम रक्षा मंत्री भी नहीं दे पाए. अब कांग्रेस की यह मांग मोदी पूरा करने वाले हैं लेकिन कांग्रेस अमित शाह को रक्षा मंत्री बनते नहीं देख पाएगी. कांग्रेस को झटका झेलने के लिए तैयार हो जाना चाहिए. अमित शाह को मोदी इसलिए भी कैबिनेट में जगह देना चाहते हैं क्योंकि अमित शाह का रोल भविष्य में बड़ा होगा, उन्हें उस रोल को निभाने में अनुभव की जरूरत होगी. मोदी तो 10 साल तक गुजरात के मुख्यमंत्री थे इसलिए उन्हें अनुभव की जरूरत नहीं थी लेकिन अमित शाह सिर्फ अनुभव के मामले में सिर्फ गुजरात के गृह मंत्री रहे हैं. अब वे देश के रक्षा मंत्री बनकर दुश्मनों को सिरदर्द देंगे साथ ही अगला रोल निभाने के लिए अनुभव भी हासिल करेंगे.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: