Jun 26, 2017

अगर शरीर में होगी यह कमी तो प्रेग्नेंट होने में होगी परेशानी


pregnancy-tips-for-women-in-hindi

New Delhi: गर्भावस्था महिलाओं के जीवन की सामान्य प्रक्रिया है लेकिन कई महिलाओं को गर्भावस्था में पहुँचने के लिए बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, कई महिलाएं यह भी नहीं समझ पातीं कि उन्हें प्रेग्नेंट होने में क्यों परेशानी आ रही है, कई महिलायें डॉक्टर्स के पास दौड़ते दौड़ते परेशान हो जाती है और उनका समय के साथ साथ धन भी खर्च हो जाता है. आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि गर्भ धारण करने के लिए क्या क्या तैयारी करनी चाहिए.

अपनी जीवनशैली सुधारें

कुछ लोग गर्भ धारण करने के लिए भगवान भरोसे रहते हैं, मतलब वे सोचते हैं कि जब होना होगा तब हो जाएगा, ऐसे लोग टेंशन नहीं लेते, कई बार पुरुषों में कोई कमी होती है जिसकी वजह से गर्भ धारण करने में परेशानी होती है और कई बार पुरूषों में कमीं नहीं होती तो भी महिलाओं को गर्भावस्था में परेशानी होती है. ऐसी महिलाओं को अपनी जीवनशैली में सुधार लाना चाहिए. मतलब जब भी गर्भावस्था धारण करने का मन करे योग-एक्सरसाइज शुरू कर देना चाहिए, स्मोकिंग और ड्रिंकिंग बंद कर देनी चाहिए.

शरीर में खून (Hemoglobin) की जांच कराएं

अगर शरीर में खून की कमी होगी तो प्रेग्नेंट होने में परेशानी जरूर आएगी, कई महिलाओं को पता ही नहीं होता कि खून की कमी की वजह से उन्हें प्रेग्नेंट होने में समस्या आ रही है, नतीजा यह होता है कि वे डॉक्टर्स के पास दौड़ते दौड़ते परेशान हो जाती हैं और डॉक्टर्स उन्हें जमकर लूटते हैं.

महिलाओं के शरीर में 12 से 15.5 ग्राम हीमोग्लोबिन होना चाहिए, जिस महिला का हीमोग्लोबिन 10-12 ग्राम के बीच में होता है उसे मासिक की समस्या होती है इसलिए गर्भधारण करने में समस्या होती है, और जिस महिला के खून में हीमोग्लोबिन 10 ग्राम से कम होता है उसे मासिक नहीं आता इसलिए गर्भधारण करने का सवाल ही नहीं पैदा होता.

इसलिए गर्भधारण की तैयारी करने से पहले अपना हीमोग्लोबिन चेक करवा लें, अगर हीमोग्लोबिन 12 ग्राम से कम हो तो अपने खान पान में बदलाव लायें, मतलब हरी साग-सब्जियां और फल खाना शुरू कर दें, जितनी ज्यादा हरी सब्जियां खाएंगी शरीर में हीमोग्लोबिन उतना बढ़ता जाएगा. अपने खान पान में बदलाव लाकर कुछ समय के बाद फिर से हीमोग्लोबिन की जांच करवाएं, अगर हीमोग्लोबिन 12 ग्राम से ऊपर आ जाए तो प्रेग्नेंट होने में आसानी हो जाएगी.

गर्भ धारण करने के लिए सही समय पर करें सेक्स

गर्भ धारण करने के लिए सबसे जरूरी होता है सही समय पर सेक्स, मतलब पीरियड्स शुरू होने की तारीख और अगला पीरियड शुरू होने की तारीख के बीच में सेक्स करने से प्रेग्नेंट होने के 99 परसेंट चांसेस होते हैं. मतलब अगर आपका पीरियड 1 तारीख को होता है तो प्रेग्नेंट होने के लिए 12 तारीख से 17 तारीख के बीच में सेक्स करें. दरअसल हर पीरियड्स के बीच में ओवरी से अंडे निकलते हैं जिसकी लाइफ 24 घंटे की होती है, अगर इस समय पुरुषों का स्पर्म महिलाओं के अंडे से चिपक जाता है तो महिलायें प्रेग्नेंट हो जाती हैं.

उदाहरण के लिए समझिये

मान लीजिये 1 तारीख हो महिला का पीरियड शुरू हुआ. ऐसे में 14-15 तारीख के आसपास ओवरी से अंडा निकलता है. अगर 12-14-15 तारीख को सेक्स किया गया और 15 को अंडा निकला तो पुरुष का स्पर्म महिला के गर्भाशय में 2-3 दिन तक घूमते रहते हैं, ऐसे में स्पर्म तुरंत ही अंडे से चिपक जाएगा और महिला प्रेग्नेट हो जाएगी. अगर 15 तारीख को अंडा निकला तो वह गर्भाशय में 24 घंटे तक जिन्दा रहता है ऐसे में 16 को सेक्स करने पर भी महिला प्रेग्नेंट हो जाएगी.

कहने का मतलब ये है कि 1 तारीख को अगर पीरियड होता हिया तो 12 से 16 तारीख पर सेक्स करने से प्रेग्नेंट होने के 99 परसेंट चांस होते हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: