May 26, 2017

देश में जहाँ जहाँ BJP सरकार, वहां हो रही हिन्दुओं को आपस में लड़ाने की साजिश, जातिवादी आन्दोलन


conspiracy-against-modi-bjp-sarkar-to-divide-hindus-caste-exposed

New Delhi: सर्वविदित है कि वर्ष 2014 में हिन्दुओं ने जातिवाद-भेदभाव भुलाकर और एकजुट होकर बीजेपी को वोट दिया था और केंद्र में मोदी की बहुमत के साथ सरकार बनायी थी, इसके बाद कई राज्यों में चुनाव हुए और हिन्दू समुदाय के लोग जातिवाद और भेदभाव भूलकर हर जगह बीजेपी को वोट दिए. बिहार, पंजाब को छोड़कर हर जगह बीजेपी की सरकार बनी.

हिन्दुओं की एकजुटता ही बीजेपी की ताकत है, हिन्दू लोग जातिवाद भूलकर एक हो जाएं, यही बीजेपी वाले चाहते हैं इसलिए आरएसएस और बीजेपी के लोग हिन्दू धर्म से जातिवाद और भेदभाव मिटाने का काम कर रहे हैं लेकिन बीजेपी की विरोधी पार्टियाँ हिन्दुओं को आपस में लड़ाने का काम कर रही हैं ताकि हिन्दू बंट जाएं, हर जाति एक दूसरे एक खिलाफ हो जाए ताकि 2019 के लोकसभा चुनावों में मोदी-बीजेपी को हराया जा सके.

बहुत बड़ी साजिश हो रही है

इस वक्त देश में बीजेपी सरकारों के खिलाफ बहुत बड़ी साजिश हो रही है, जहाँ जहाँ भी बीजेपी की सरकारें हैं वहां जातिवादी आन्दोलन हो रहे हैं, एक जाति को दूसरी जाति के खिलाफ लड़ाने का प्रयास हो रहा है, दलितों को राजपूतों के खिलाफ, दलितों को ब्राह्मणों के खिलाफ, OBC को सवर्णों के खिलाफ, कहीं पर बहुसंख्यक जातियों के लिए आरक्षण के नाम पर हिंसा हो रही है, पता नहीं क्या क्या हो रहा है, हर जगह एक दूसरे को लड़ाने की साजिश हो रही है.

आप खुद देखिये, हरियाणा में BJP की सरकार बनते ही वहां पर जाट आरक्षण के नाम पर पर जातिवादी आन्दोलन शुरू हो जाता है, आग लगाने की कोशिश की जाती है, हजारों करोड़ रुपये की सरकारी संपत्ति जलाकर स्वाहा कर दी जाती है।

UP मे BJP की सरकार बनते ही भीम आर्मी के नाम पर जातिवादी आग लगा दी जाती है.

महाराष्ट्र मे BJP की सरकार बनते ही माराठा आन्दोलन शरू हो जाता है.

गुजरात में चुनाव से पहले पाटीदार आन्दोलन के नाम पर जातिवादी आन्दोलन शुरू किया जाता है ताकि पटेलों और अन्य हिन्दू जातियों में फूट पड़े, लोग एक दूसरे से जलने लगें.

राजस्थान मे चुनाव सामने देख फिर से गुर्जरों को भडकाने की तैयारी हो रही है.

आप खुद सोचिये, आखिरकार जहाँ भी BJP की सरकारों है वहीं पर ये जातिवादी आन्दोलन क्यों हो रहा है, क्या बिहार में दलितों के साथ अन्याय नहीं हो रहा है, वहां पर BHIM ARMY के लोग धरना प्रदर्शन और दंगे क्यों नहीं कर रहे हैं, क्या बिहार में पटेल नहीं हैं, वहां पर हार्दिक पटेल आन्दोलन क्यों नहीं करते.

आश्चर्य इस बात का है कि विपक्षी पार्टियाँ बीजेपी के खिलाफ साजिश भी कर रही हैं और इस सब का जिम्मेदार भी बीजेपी को बता रही हैं और साधारण सोच वाला इंसान विपक्षियों की बात मान भी जाता है, लेकिन यह सच नहीं है.

BJP को 2019 में रोकन है लक्ष्य

यह सब साजिशें BJP और खासकर मोदी को 2019 में रोकने के लिए हो रही हैं, विपक्षी जानते हैं कि मोदी ने नोटबंदी करके सभी राजनीतिक पार्टियों को बर्बाद कर दिया है, अगर ये एक बार और आ गया तो इतिहास में ढूँढने से भी किसी पार्टी का नाम नहीं मिलेगा. 

विपक्षी जानते हैं कि भाजपा की सत्ता में वापसी हिन्दुओं की एकता के कारण ही संभव है अतः वो कभी नही चाहेंगे की हिन्दुओं में एकता हो. इसलिए हिन्दुओं को आपस में लड़ाने, फूट डालने, जातिवादी हिंसा भड़काने की साजिश हो रही है, अगर हिन्दू लोग विपक्षी पार्टियों की साजिश में फंस गए तो देश में फिर से जातिवाद फैलेगा और 2019 में मोदी की वापसी मुश्किल हो जाएगी.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: