विनोद कुमार के हाथ से ॐ और बजरंग बलि मिटवाकर लिखवा दिया नूर मोहम्मद खान, जानें क्या है मामला

धर्म परिवर्तन कराने वाले गिरोह के जाल में पूरी तरह फंसने से बचे फरीदाबाद के हिन्दू युवक विनोद कुमार ने सनसनीखेज खुलासा किया है, विनोद कुमार ने अपने हाथ पर ॐ बनवाया था और बजरंग बलि लिखवाया था, लेकिन धर्मांतरण कराने वालों ने ॐ और बजरंग बलि मिटाकर उसपर नूर मोहम्मद खान लिख दिया, फिलहाल विनोद ने नूर मोहम्मद को मिटा दिया है.

दरअसल उत्तर प्रदेश एंटी टेरर स्क्वॉड ( एटीएस ) ने मंगलवार देर रात मौलाना कलीम सिद्दीकी को मेरठ से गिरफ्तार कर लिया, मौलाना पर धर्म परिवर्तन करानें का आरोप है, फरीदाबाद का एक हिन्दू युवक इनकी जाल में फंस गया था, लेकिन वह किसी तरह से जान बचाकर भाग आया, विनोद कुमार से नूर मोहम्मद खान बनाये गए इस युवक ने मौलाना कलीम सिद्दीकी के धर्म परिवर्तन गैंग के बारें में चौंकाने वाला खुलासा किया है.


पीड़ित विनोद कुमार ने पुलिस को दी गई शिकायत में बताया है कि वह अपने परिवार के साथ फरीदाबाद के सेक्टर 17 की प्रेम नगर की झुग्गियों में रहता था। उसी के पड़ोस में कुछ मुस्लिम युवक भी रहते थे, जो उसे मुस्लिम समाज की अच्छाइयों के बारे में बताया करते थे और हिंदू धर्म की बुराई किया करते थे। आरोपियों ने पीड़ित को बीच-बीच में कुछ पैसे और अन्य जरूरी सामान भी दिए थे। इसी के चलते वह उनके चंगुल में फंस गया।

पीड़ित विनोद के मुताबिक़, उसे दिल्ली के शाहीन बाग में स्थित ग्लोबल पीस सेंटर नाम की एक मस्जिद में मौलाना कलीम सिद्दीकी से मिलवाया गया। जहां मौलाना ने अपने गुर्गो के सामने उसका धर्मांतरण करवा दिया और उसका नाम नूर मोहम्मद रख दिया।

मौलाना कलीम सिद्दीकी के गैंग के चंगुल से किसी तरह जान बचाकर आये हिन्दू युवक विनोद ने ये भी बताया कि उसे गुजरात और यूपी में इस्लामी तालीम के लिए कई बार भेजा गया, जहां उसे हिंदू धर्म की बुराइयां और इस्लाम की अच्छाइयां बताई जाती थी। पीड़ित ने बताया कि मौलाना कलीम सिद्दीकी का एक साथी जिसका नाम दिलशाद था उसे पाकिस्तान में आतंकवाद की ट्रेनिंग के लिए भेजने की भी बात कहा करता था जिसकी वजह से वह हमेशा डरा डरा रहता था।

पीड़ित विनोद ने बताया कि वह 2018 में बड़ी मुश्किल से मौलाना के चंगुल से छूटकर वापिस फरीदाबाद आ गया और 2 साल फरीदाबाद में ही गुमनामी में बिताए। इसके बाद 2020 में जब उसकी बहन की शादी का उसे पता चला तो वह अपने परिवार से आकर मिला। अब विनोद कुमार ने फरीदाबाद के सेक्टर 17 थाने में मौलाना कलीम सिद्दीकी समेत उसके 6 साथियों के खिलाफ धर्मांतरण का मुकदमा दर्ज कराया है।