क्या अब जाएगी CM गहलोत की कुर्सी, राहुल से पायलट की मुलाक़ात के बाद राजस्थान में मची सियासी हलचल

हाल ही में कांग्रेस आलाकमान ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से हटाकर चरणजीत सिंह चन्नी को नया मुख्यमंत्री बना दिया, अब लगता है कि कांग्रेस लगे हाथ राजस्थान का भी मामला सुलझाना चाहती है, दिल्ली में राहुल गांधी के साथ सचिन पायलट की मीटिंग के बाद राजस्थान में सियासी हलचलें बढ़ गई हैं, कुछ लोगों का मानना है कि अब सीएम अशोक गहलोत की कुर्सी जा सकती है और सचिन पायलट की ताजपोशी हो सकती है.

शुक्रवार शाम को कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने राजस्थान के नेता सचिन पायलट से मुलाकात की, जिससे पंजाब में नेतृत्व परिवर्तन के बाद राजस्थान में परिवर्तन के अटकलों को हवा मिली। एक हफ्ते से भी कम समय में सचिन पायलट की गांधी परिवार से यह दूसरी मुलाकात है, जो कथित तौर पर चाहते हैं कि अगले साल राज्य में चुनाव से पहले वह गुजरात की कमान संभालें।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, राजस्थान में जल्द ही कैबिनेट विस्तार होनें के आसार हैं, सचिन पायलट गुट के कई विधायकों को मंत्री बनाये जानें की संभावना है, एनडीटीवी ने अपने सूत्रों के हवाले से दावा किया है कि पायलट राजस्थान पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं, उन्हें मुख्यमंत्री बनाए जाने का आश्वासन मिल रहा हैं।

चुनाव से ठीक पहले पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री के रूप में बदले जाने के तुरंत बाद, कुछ रिपोर्टों में कांग्रेस के दो अन्य राज्यों, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में इसी तरह के फैसलों के बारें में ख़बरें आई थी.