जो दुनिया का कोई देश नहीं कर पाया, वो क्रिकेट ने कर दिखाया, पाकिस्तान को घोषित किया आतंकी मुल्क

आधिकारिक तौर पर दुनिया के लगभग 15-20 देशों में खेले जानें वाले क्रिकेट के नाम एक महानतम उपलब्धि दर्ज हो गई है, जी हाँ! जो दुनिया का कोई देश नहीं कर पाया, उसे क्रिकेट ने कर दिखाया है, क्रिकेट ने अप्रत्यक्ष तौर पर पाकिस्तान को आतंकी मुल्क घोषित कर डाला है, जबकि पूरी दुनिया जानती है कि पाकिस्तान में आतंकियों को पाला जाता है, फिर भी कभी आतंकी घोषित करने की हिम्मत नहीं जुटा पाए.

दरअसल हाल ही में पाकिस्तान दौरे पर गई न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीम सुरक्षा कारणों से दौरा रद्द कर वापस अपने देश लौट गई, इसके बाद इंग्लैंड ने भी अक्टूबर में होना वाला पाकिस्तान दौरा रद्द कर दिया। इससे साबित होता है कि पाकिस्तान क्रिकेट खेलनें के लिए सुरक्षित नहीं है, आतंकी हमला कभी भी हो सकता है.

इंग्लैंड एन्ड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ( ECB ) ने एक बयान जारी करके पाकिस्तान का दौरा रद्द करने का ऐलान किया। इंग्लैंड को इसी साल अक्टूबर महीनें में पाकिस्तान में दो टी-20 मैच खेलने थे. ECB ने कहा, “हमारे खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता बनी हुई है..

न्यूजीलैंड सरकार द्वारा सुरक्षा अलर्ट जारी करने के बाद ब्लैककैप ( न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ) ने पाकिस्तान दौरा रद्द कर दिया, न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम को लाहौर में पांच मैचों की टी20 श्रृंखला से पहले शुक्रवार शाम (न्यूजीलैंड के समय) रावलपिंडी में पाकिस्तान के खिलाफ तीन एकदिवसीय मैचों की सीरीज का पहला खेलना था।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की 2009 में पाकिस्तान में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर आतंकी हमला हुआ था, इस आतंकी हमलें से पूरा क्रिकेट जगत सदमें में आ गया था, इस हमलें में श्रीलंका क्रिकेट टीम को बहुत नुक्सान हुआ था, तबसे कोई भी देश पाकिस्तान में खेलने से डरता है, क्योंकि पाकिस्तान में आतंकी पाले जाते हैं. और ये आतंकी कब हमला कर दें कोई पता नहीं रहता।