इंदौर में ट्रैफिक जाम करवा बीच सड़क पर नाचने वाली मॉडल के खिलाफ पुलिस ने दर्ज की FIR: वीडियो

मध्यप्रदेश के इंदौर में ट्रैफिक सिग्नल पर नाचने वाली मॉडल श्रेया कालरा ( Shreya Kalraa ) के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है, मॉडल के डांस का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि श्रेया कालरा नाम की महिला पर आईपीसी की धारा 290 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो इंदौर के रसोमा चौक ट्रैफिक सिग्नल के पास का है, वीडियो में देखा जा सकता है कि ‘काले रंग के कपडे और टोपी पहने हुए एक महिला ( Shreya Kalraa )  सड़क पर जैसे ही बाहर रुकते हैं, अंग्रेजी गाने ‘लेट मी बी योर वुमन’ की धुन पर नाचने लगती है। बीच सड़क पर महिला के नाचने वाली वजह से लंबा जाम लग गया, जिसकी वजह से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए बुधवार को पुलिस को मॉडल के खिलाफ उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया था. विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी ने कहा, “शहर के रसोमा स्क्वायर पर ट्रैफिक सिग्नल पर डांस करने वाली श्रेया कालरा के खिलाफ आईपीसी की धारा 290 के तहत मामला दर्ज किया गया है।” उन्होंने कहा कि इस धारा के तहत अपराधी पर 200 रुपये तक का जुर्माना लगाया जाता है।

एफआईआर दर्ज होने के बाद मॉडल श्रेया कालरा ( Shreya Kalraa )  ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक और वीडियो शेयर करके सफाई दी है कि ‘उनका इरादा लोगों को यातायात नियमों का पालन करने के महत्व के बारे में जागरूक करना था, जैसे ट्रैफिक सिग्नल के लाल होने पर निर्धारित स्थान पर रुकना, इसलिए जिससे पैदल यात्री जेब्रा क्रासिंग से आसानी से सड़क पार कर सकें।

कालरा ने दावा किया कि उन्हें उनके कृत्य के लिए सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली, लेकिन उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने इसे गलत तरीके से पेश करने की भी कोशिश की। कई नेटिज़न्स और अन्य लोगों ने आरोप लगाया कि महिला ने पॉपुलैरिटी हासिल करने के लिए वीडियो को सोशल मीडिया पर पोस्ट किया। गृह मंत्री मिश्रा ने कहा था कि वीडियो शूट करने के पीछे महिला की मंशा जो भी हो, उसने जो तरीका अपनाया वह गलत था.