सुरजेवाला ने बोला कपिल सिब्बल और अमरिंदर पर हमला, इशारों-इशारों में बताया भाजपा का एजेंट

कांग्रेस पार्टी में मची आंतरिक कलह अब लगातार उग्र रूप अख्तियार कर रही है, पार्टी नेता एक दूसरे पर हमलावर हैं, पंजाब कांग्रेस में मची भगदड़ के बाद बुधवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा, अभी पार्टी में कोई प्रेसिडेंट नहीं है। हमें नहीं पता कि फैसले कौन ले रहा है।” कपिल सिब्बल के इस बयान के बाद आगबबूला हुए सुरजेवाला ने कहा, एक दलित को मुख्यमंत्री बना दिया तो वो पूछते हैं कि कांग्रेस में फ़ैसले कौन ले रहा है? सुरजेवाला ने नाम तो नहीं लिया, लेकिन उनके ट्वीट से ऐसा लगता है कि निशाना कपिल सिब्बल ही थे. पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी निशाने पर थे.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने अपने ट्वीट में लिखा, सत्ता में बैठे मठाधीशों के अहंकार को ठेस पहुँची है। क्योंकि एक दलित को मुख्यमंत्री बना दिया तो वो पूछते हैं कि कांग्रेस में फ़ैसले कौन ले रहा है?दलित को सर्वोच्च पद दिया जाना उन्हें रास नहीं आ रहा। दलित विरोधी राजनीति का केंद्र और कहीं नहीं, अमित शाह जी का निवास बना हुआ है।

एक अन्य ट्वीट में सुरजेवाला ने लिखा, अमित शाह जी व मोदी जी पंजाब से प्रतिशोध की आग में जल रहे हैं। वे पंजाब से बदला लेना चाहते हैं क्योंकि वे किसान विरोधी काले कानूनों से अपने पूँजीपति साथियों का हित साधने में अब तक नाकाम रहे हैं। भाजपा का किसान विरोधी षड्यंत्र सफल नही होगा।

आपको बता दें कि कल ही कपिल सिब्बल ने प्रेस-कॉन्फ्रेंस करके कहा था कि हमारे लोग हमें छोड़कर जा रहे हैं। सुष्मिता देव चली गईं। गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री छोड़कर चले गए। उनके साथ कई और लोग छोड़कर चले गए। जितिन प्रसाद जी को मंत्रालय मिल गया। सिंधिया जी पहले ही चले गए थे। सवाल उठता यह है कि ये नेता क्यों छोड़कर जा रहे हैं? अभी पार्टी में कोई प्रेसिडेंट नहीं है। हमें नहीं पता कि फैसले कौन ले रहा है।” बुधवार को ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाक़ात की थी.