चरणजीत चन्नी को कांग्रेस ने बनाया पंजाब का मुख्यमंत्री, महिला IAS अफसर लगा चुकी है #MeToo का आरोप

कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफा देने के बाद आख़िरकार कांग्रेस आलाकमान ने पंजाब के नए मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान कर दिया है, चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के नए मुख्यमंत्री होंगे। चन्नी वरिष्ठ नेताओं के साथ कुछ ही देर में राज्यपाल से मिलेंगे, कल शपथग्रहण समारोह हो सकता है, आपको बता दें कि ये वही चरणजीत सिंह चन्नी हैं जिनपर एक महिला आईएएस अफसर #MeToo का आरोप लगा चुकी है.

चरणजीत सिंह चन्नी के खिलाफ एक महिला आइएएस अधिकारी ने 2018 में आपत्तिजनक संदेश भेजने का आरोप लगाया था, चन्नी कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी बताये जाते हैं. ये मामला राहुल गांधी के संज्ञान में भी गया था.

आरोपों पर सफाई देते हुए चन्नी ने कहा था कि ‘मैसेज गलती से महिला अधिकारी को भेजा गया था। उन्होंने कहा कि दूसरे ही दिन महिला अधिकारी से इस संबंध में गलती मान ली थी और मुख्यमंत्री की हाजिरी में यह मामला हल को गया था। उस समय सीएम अमरिंदर सिंह ने भी कहा था कि मामला सुलझा लिया गया है. लेकिन मई 2021 में मामला तब एक बार फिर सामने आया जब पंजाब महिला आयोग ने इस मामले को लेकर राज्य सरकार को नोटिस भेजा।

महिला आयोग की चीफ मनीषा गुलाटी ने बताया कि वह आईएएस ऑफिसर के लिए इंसाफ चाहती हैं जिनका हाल ही में पंजाब के बाहर ट्रांसफर हो गया है. उन्होंने कहा, अगर सरकार इस मामले में कोई जवाब नहीं देती है तो मैं धरने पर बैठूंगी।