असम: हिंसा पर बोले CM हिमंता सरमा, 1000 लोगों ने असम पुलिस को घेर लिया, जानलेवा हमला किया

असम में दरांग जिले के ढोलपुर गांव में गुरुवार को एक अवैध अतिक्रमण हटानें के दौरान हुई हिंसा को लेकर असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने कहा, लगभग 10,000 लोगों ने सुरक्षा कर्मियों का घेराव किया और उन पर हमला किया। इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्यवाही की. गुरुवार को उस समय हिंसा हुई जब सुरक्षा कर्मियों और जिला प्रशासन के अधिकारियों की एक टीम ने सरकारी कार्रवाई का विरोध कर रहे अतिक्रमणकारियों को हटाने के लिए दरांग के सिपाझार में ढ़ोलपुर घोरुखुटी इलाके का दौरा किया।

कुछ प्रदर्शनकारियों ने अधिकारियों पर पथराव किया और उन पर धारदार हथियारों से हमला किया। पुलिस ने तब “आत्मरक्षा” में गोलियां चलाईं, जिसमें दो नागरिक मारे गए। जबकि ११ पुलिसकर्मीं घायल हुए.

सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा, “आप एक वीडियो से राज्य सरकार को नीचा नहीं दिखा सकते। 1983 से, वह क्षेत्र हत्याओं के लिए जाना जाता है। अन्यथा, आमतौर पर लोग मंदिर की भूमि पर अतिक्रमण नहीं करते हैं। मैंने चारों ओर अतिक्रमण देखा है। असम के सीएम ने आगे कहा कि हिंसा के दौरान 11 पुलिस कर्मी घायल हुए.