योगी सरकार का बड़ा फैसला, यूपी में मुहर्रम पर ताजिया या जुलूस निकालने की इजाजत नहीं?

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने मुहर्रम के दौरान सभी प्रकार के जुलूसों पर प्रतिबन्ध लगानें का फैसला लिया है, गाइडलाइन भी जारी कर दी गई है, यह फैसला कोरोना के चलते सरकार ने लिया है. मुहर्रम 10 अगस्त से शुरू होना है..यूपी के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी), मुकुल गोयल ने आदेश दिया है कि राज्य में मुहर्रम को महामारी से निपटने के लिए प्रतिबंधों को ध्यान में रखते हुए मनाया जाना चाहिए।

मुकुल गोयल ने यह भी बताया कि मुहर्रम के दौरान किसी भी प्रकार के हथियार के प्रदर्शन की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को असामाजिक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई करने और फर्जी तथा भड़काऊ सामग्री के लिए सोशल मीडिया पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं.

यूपी डीजीपी ने अपने अधिकारियों से कोविड -19 के बारे में जागरूकता फैलाने और मुहर्रम को घर के अंदर मनाने की आवश्यकता के लिए मुस्लिम नेताओं के साथ संवाद करने का भी आग्रह किया। डीजीपी ने संवेदनशील इलाकों में पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात करने के भी आदेश दिए हैं। डीजीपी ने निर्देश दिया, ”हर जिले में पर्याप्त संख्या में पुलिस पीएसी बल के रिजर्व रखे जाएं. हर स्थिति से निपटने की योजना बनाएं।। आपको बता दें कि कोरोना के चलते योगी सरकार ने कांवड़ यात्रा पर भी प्रतिबन्ध लगाया था.