राज कुंद्रा और शिल्पा शेट्टी पर नहीं लगेगा 3 लाख का जुर्माना, एसईबीआई ने वापस लिया केस

sebi-imposes-rs-3-lakhs-penalty-on-actor-shilpa-shetty

शिल्पा शेट्टी और उनके पति और बिजनसमैन राज कुंद्रा ( Raj Kundra )के खिलाफ ‘सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया’ ने न्यायिक कार्यवाही का निपटारा किया है। कुछ दिनों पहले एसईबीआई ने विआन इंडस्ट्रीज पर 3 लाख रुपए का जुर्माना लगाया था। यह जुर्माना इनसाइडर ट्रेडिंग (भेदिया कारोबार) नियमों के उल्लंघन की वजह से लगाया गया था। अब एसईबीआई ने 3 लाख का जुर्माना वाले केस को वापस ले लिया है।

एसईबीआई ने अपने आदेश में उल्लेख किया कि तरजीही आवंटन में युगल की सामूहिक हिस्सेदारी 0.02 प्रतिशत था और शिल्पा शेट्टी कुंद्रा और राज कुंद्रा ( Raj Kundra ) द्वारा शेयरों के व्यक्तिगत अधिग्रहण के संदर्भ में देखा गया तो यह 0.01 प्रतिशत तक बदल गया था। नियामक के मुताबिक तरजीही आवंटन के बाद उनकी शेयरधारिता में परिवर्तन नियमों के तहत निर्धारित सीमा के भीतर है और शेयरधारिता में यह बदलाव उनके द्वारा किए जाने वाले किसी भी खुलासे को वारंट नहीं करता है। नियामक ने 26 अप्रैल, 2021 को रिपू सूदन उर्फ कुंद्रा और शिल्पा शेट्टी कुंद्रा के खिलाफ एससीएन द्वारा जारी नोटिस के खिलाफ शुरू की गई न्यायिक कार्यवाही निपटारा किया है।

सेबी ने 30 जुलाई, 2021 को जारी अपने आदेश में कहा,’नोटिस पाने वालों (दोनों) की शेयरधारिता में बदलाव के लिए उनके द्वारा एसएएसटी विनियमों तहत किसी खुलासे की जरूरत नहीं थी और कारण बताओ नोटिस (एससीएन) में लगाया गया यह आरोप कि उन्होंने एसएएसटी विनियमों का उल्लंघन किया, जो टिकने योग्य नहीं हैं।’

शेयरों के आवंटन के मुताबिक शिल्पा और राज ( Raj Kundra )पर यह आरोप लगाया गया था कि कंपनी में कपल की हिस्सेदारी में कुछ बदलाव आए हैं इसलिए, उन्हें एसएएसटी मानदंडों के तहत स्टॉक एक्सचेंज, बीएसई और कंपनी को आवश्यक खुलासे करने की आवश्यकता थी। हालांकि, शिल्पा और राज निर्धारित समय अवधि के अंदर आवश्यक खुलासे करने में विफल रहे थे। जिसकी वजह से कुंद्रा के खिलाफ कार्यवाही करने का फैसला लिया गया है और अप्रैल, 2021 में उन्हें एससीएन जारी किया गया था।