देवबंद में ATS कमांडों सेंटर खोलेगी योगी सरकार, विरोध में उतरी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी

अफगानिस्तान में तालिबान की बर्बरता के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सहारनपुर के देवबंद में तत्काल प्रभाव से कमांडों सेंटर खोलने का आदेश दिया है, एक तरफ योगी सरकार के इस फैसले की जमकर तारीफ हो रही है तो वहीँ कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ( सपा ) ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है, कॉन्ग्रेस ने योगी सरकार के इस निर्णय को देवबंद को बदनाम करने की साजिश बताया है। वहीँ समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार पर मुस्लिमों को डराने की कोशिश करने का आरोप लगाया है.

UP कॉन्ग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शाहनवाज आलम ने कहा, देवबंद की छवि बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है। आलम ने कहा कि देवबंद से निकले हजारों उलेमाओं ने कॉन्ग्रेस के साथ मिलकर अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ संघर्ष किया और शहादत दी लेकिन अब देवबंद को बदनाम करने की साजिश वही लोग कर रहे हैं, जिनके पूर्वज अंग्रेजों से माफी माँगते थे और कॉन्ग्रेस नेताओं की जासूसी करते थे।

देवबंद में एटीएस कमांडों सेंटर का विरोध करते हुए समाजवादी पार्टी ( सपा ) विधायक रामगोविंद चौधरी का कहना है कि देवबंद इस्लामिक शिक्षा का बड़ा केंद्र है, जो कि दुनियाभर में धार्मिक शिक्षा के लिए प्रसिद्ध है, ऐसे में ATS कमांडो सेंटर स्थापित कर योगी सरकार मुस्लिमों को डरा रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक़, देवबंद में कमांडों सेंटर खोलने के लिए योगी सरकार ने यूपी एटीएस को 2000 वर्गमीटर जमीन एलाट कर दी है, जल्द ही यहाँ एटीएस कमांडों सेंटर बनकर तैयार हो जाएगा। प्रदेश भर से चुने हुए करीब डेढ दर्जन तेज तर्रार एटीएस अफसरों की तैनाती होगी। वर्तमान परिस्थितियों और चुनौतियों के मद्देनजर योगी सरकार ने बेहतरीन फैसला लिया है, सोशल मीडिया पर सीएम योगी के इस फैसले का जमकर स्वागत हो रहा है.