जन्माष्टमी के मौके पर पाकिस्तान में कृष्ण मंदिर में तोड़फोड़, इस्लामी भीड़ ने हमला कर मूर्ति को किया खंडित

पाकिस्तान में हिन्दुओं पर हो रहा अत्याचार थमने का नाम नहीं ले रहा है, पाकिस्तानी मुस्लिम आये दिन हिन्दुओं और मंदिरों को निशाना बना रहे हैं, आज जन्माष्टमी के मौके पर मुस्लिमों ने कृष्ण मंदिर में घुसकर तोड़फोड़ की और भगवान श्रीकृष्ण की मूर्ति को खंडित कर दिया, यह मामला पाकिस्तान में सिंध प्रांत के खिप्रो इलाके का है..पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की जिंदगी बद से बदतर हो गयी है, अल्पसंख्यकों पर अत्याचार का आलम यह है की हिन्दुओं के मंदिरों को इस्लामी भीड़ जब मर्जी आता है तोड़ देती है..

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान में सोमवार (30 अगस्त) को हिंदू समुदाय के लोग अपने त्योहार कृष्ण जन्माष्टमी पर पूजा कर रहे थे, जिससे मुस्लिम कट्टरपंथी भड़क गए। कुछ देर बाद ही कट्टरपंथियों की भीड़ पूजा स्थल पर गई और उन्होंने कृष्ण जन्माष्टमी पर पूजा कर रहे लोगों को मारपीट कर वहाँ से भगा दिया। इसके बाद उन्होंने भगवान कृष्ण के मूर्ति को भी क्षतिग्रस्त किया। सोशल मीडिया पर इस घटना की तस्वीरें शेयर की जा रही हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीरों को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि ‘इस्लामी कट्टरपंथियों ने पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदूओं की आस्था को कैसे चोट पहुँचाई है। इससे पहले इसी महीनें में सिंध प्रांत के रहीमयार खान जिले के भोंग शहर में मुस्लिम भीड़ ने हमला कर सिद्धि विनायक मंदिर को तोड़ दिया। घटना वाले इलाके में करीब 100 हिंदू परिवार रहते हैं.. इससे पहले हाल ही में पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में अल्लाह-हु-अकबर चिल्लाते हुए मुस्लिमों की भीड़ ने न सिर्फ हिन्दू मंदिर में तोड़फोड़ की बल्कि आग भी लगा दिया।