केरल सरकार ने बकरीद पर लॉकडाउन में दी थी ढ़ील, ओणम पर कहा, रिश्तेदारों से न मिलें, भीड़ से बचें

कोरोना के प्रकोप के कारण उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों ने कांवड़ यात्रा पर प्रतिबन्ध लगा दिया, उसी दौरान केरल सरकार ने बकरीद पर पाबंदियों में ढ़ील देने का ऐलान किया था, जबकि इसी केरल सरकार ने ओणम त्यौहार पर कहा है कि रिश्तेदारों से न मिलें, भीड़ से बचें। केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने शनिवार को लोगों से ओणम त्योहार के दौरान भीड़ और यदि संभव हो तो कार्यक्रमों, समारोहों से बचने के लिए कहा. उन्होंने लोगों से कोविड संक्रमण की चेन को कम करने के लिए रिश्तेदारों से मिलने नहीं जाने का भी आग्रह किया।

आपको बता दें कि केरल सरकार ने बकरीद मनानें के लिए 18, 19 और 20 जुलाई को लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील दी थी, केरल सरकार के इस फैसले का जमकर विरोध भी हुआ, लेकिन फैसला नहीं बदला था..लेकिन ओणम पर सरकार तमाम तरह की बंदिशें थोपने का प्रयास कर रही है.

केरल में लगातार चौथे दिन 20,000 से अधिक कोरोना के नए मामलें दर्ज किये गए, केरल में अब कुल कोरोना मरीजों की संख्या 33,70,137 तक पहुँच गई है, अब तक कोरोना के कारण 16,702 लोगों की मौत हो चुकी है, केरल के कुछ जिले कोरोना से बुरी तरह प्रभावित हैं, इनमें मलप्पुरम (3670), कोझीकोड (2470), एर्नाकुलम (2306), त्रिशूर (2287), पलक्कड़ (2070), कोल्लम (1415), अलाप्पुझा (1214), कन्नूर (1123) हैं। तिरुवनंतपुरम (1082) और कोट्टायम (1030)।