देश में संविधान, सेकुलरिज्म और कानून तभी चलेगा जबतक हिंदू बहुसंख्यक हैं: डिप्टी CM नितिन पटेल

भाजपा के वरिष्ठ नेता और गुजरात के मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि देश में संविधान, सेकुलरिज्म और कानून तभी चलेगा जबतक हिंदू बहुसंख्यक हैं, जिस दिन हिन्दुओं की संख्या कम हो जाएगी उसी दिन से देश में संविधान, सेकुलरिज्म और कानून भी ख़त्म हो जाएगा। डिप्टी सीएम के इस बयान पर बवाल भी मच सकता है..नितिन पटेल ने गांधीनगर के भारत माता मंदिर में यह टिप्पणी की..

विश्व हिंदू परिषद द्वारा आयोजित मंदिर में मूर्ति प्रतिष्ठा महोत्सव (मूर्ति स्थापना समारोह) में बोलते हुए, पटेल ने कहा, “हमारे देश में, कुछ लोग संविधान, धर्मनिरपेक्षता के बारे में बात करते हैं। लेकिन मैं आपको बताता हूं, और अगर आप इसे वीडियो रिकॉर्ड करना चाहते हैं, तो इसे करें… मेरे शब्दों को नोट कर लें। संविधान, धर्मनिरपेक्षता, कानून आदि की बात करने वाले ऐसा तब तक करेंगे जब तक कि इस देश में हिंदू बहुसंख्यक नहीं हैं… जिस दिन… हिंदुओं की संख्या घटती है, धर्मनिरपेक्षता नहीं, लोकसभा नहीं, न हीं संविधान। सब कुछ हवा में और दफन हो जाएगा। कुछ नहीं रहेगा।”

इस समारोह में गुजरात के गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा, विहिप और आरएसएस के शीर्ष नेता भी मौजूद थे। पटेल ने अपने भाषण में कहा, ‘मैं सभी के बारे में बात नहीं कर रहा हूं। मुझे इसे भी स्पष्ट करना चाहिए। लाखों मुसलमान देशभक्त हैं, लाखों ईसाई देशभक्त हैं। भारतीय सशस्त्र बलों में हजारों मुसलमान हैं। गुजरात पुलिस बल में हजारों मुसलमान हैं। वे सभी देशभक्त हैं।”