POK में ‘कश्मीर प्रीमियर लीग’ में हिस्सा लेने वाले क्रिकेटरों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करेगा BCCI

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर ( POK ) में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ‘कश्मीर प्रीमियर लीग’ (Kashmir Premier League) का आयोजन कराने जा रहा है, BCCI इसके विरोध में है, क्योंकि POK भारत का हिस्सा है, BCCI ने स्पष्ट शब्दों में कह दिया है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में होने वाली ‘कश्मीर प्रीमियर लीग’ में हिस्सा लेने वाले क्रिकेटरों को भारत में लीग में खेलने या बीसीसीआई के साथ किसी भी व्यावसायिक संबंध रखने से रोक दिया जाएगा, वे भारत में क्रिकेट से संबंधित किसी भी काम का हिस्सा नहीं हो सकते हैं।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दुनियाभर के क्रिकेट बोर्ड से कहा है कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा आयोजित कश्मीर प्रीमियर लीग (Kashmir Premier League) में भाग लेने वालों को भारत में लीग में खेलने या किसी भी व्यावसायिक प्रतियोगिता में भाग लेने से रोक दिया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, BCCI के एक शीर्ष अधिकारी ने द संडे एक्सप्रेस को बताया कि ‘बोर्डों से अपने खिलाड़ियों को कश्मीर लीग में भाग लेने की अनुमति नहीं देने के लिए कहते हुए, हमने उन्हें सूचित किया है कि यदि वे ऐसा करते हैं, तो वे भारत में किसी भी क्रिकेट गतिविधि का हिस्सा नहीं हो सकते। हमने राष्ट्रीय हित को ध्यान में रखते हुए ऐसा किया है..

अधिकारी के मुताबिक, यह भारत सरकार की नीति का सिर्फ एक विस्तार है। “हमें पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) खेलने वालों से कोई समस्या नहीं है, लेकिन यह PoK में एक लीग है। हम अपनी सरकार की लाइन पर चल रहे हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर हर्शल गिब्स ने बीसीसीआई पर उन्हें धमकी देने और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड समर्थित कश्मीर प्रीमियर लीग (Kashmir Premier League) में हिस्सा लेने से रोकने की कोशिश करने का आरोप लगाया है। कश्मीर प्रीमियर लीग में छह टीमें होंगी। ओवरसीज वॉरियर्स, रावलकोट हॉक्स, मुजफ्फराबाद टाइगर्स, बाग स्टैलियन्स, कोटली लायंस और मीरपुर रॉयल्स। इस टीम में इमाद वसीम, मोहम्मद हफीज, शाहिद अफरीदी, शादाब खान, शोएब मलिक, गिब्स, मोंटी पनेसर और कामरान अकमल जैसे खिलाड़ी भाग ले सकते हैं..एक टीम में पांच खिलाड़ी POK के होंगे।