अमिताभ ठाकुर की गिरफ़्तारी का अखिलेश ने किया विरोध, BJP प्रवक्ता बोले- सपा हमेशा बलात्कारियों के साथ खड़ी होती है

पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर को कल यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, रेप पीड़ित युवती को खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोप में अमिताभ ठाकुर को हजरतगंज पुलिस ने गिरफ्तार किया किया था, अमिताभ ठाकुर (Amitabh Thakur ) 9 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिए गए हैं, अमिताभ ठाकुर पर दुष्कर्म के आरोपी बसपा सांसद अतुल राय को सहयोग देने का आरोप है. दरअसल रेप पीड़िता ने खुदकुशी से पहले अमिताभ ठाकुर, मुख्तार अंसारी और अतुल राय के रिश्तों की बात कही थी.

अमिताभ ठाकुर (Amitabh Thakur ) की गिरफ़्तारी का सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने न सिर्फ विरोध किया है, बल्कि पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा किया है, अखिलेश को जवाब देते हुए भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, सपा हमेशा बलात्कारियों के साथ खड़ी होती है..


उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने अमिताभ ठाकुर की गिरफ़्तारी का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, भूतपूर्व पुलिस के विरुद्ध भाजपा सरकार की पुलिस का अभूतपूर्व कार्य! सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने अपने ट्वीट में लिखा, भाजपाई राजनीति लोगों के बीच दरार पैदा करके ही जिंदा है. अब भाजपा सरकार के दबाव के कारण पुलिस ही पुलिस के ख़िलाफ़ काम करने पर मजबूर है. एक सेनानिवृत आईपीएस के साथ ऐसा व्यवहार अक्षम्य है.

अखिलेश यादव को जवाब देते हुए भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने अपने ट्वीट में लिखा, बलात्कार के मामलों में समाजवादी पार्टी का रवैया हमेशा हैरान करता है। “लड़के हैं लड़कों से गलतियां हो जाती है” नीति पर हमेशा बलात्कारियों के साथ खड़ी होती है। पहले रेप आरोपी अतुल राय के पक्ष में वोट मांगे, अब रेप विक्टिम के डाईंग डिक्लेरेशन के बाद भी अमिताभ ठाकुर के साथ खड़े हो गए.

पीड़िता ने अमिताभ ठाकुर (Amitabh Thakur ) पर पूरा षडयंत्र रचने का आरोप लगाया था. SIT जांच में भी पीड़िता के आरोप सही निकले थे. सुप्रीम कोर्ट के बाहर आत्मदाह का प्रयास किए जाने के मामले की जांच कर रही दो सदस्यीय एसआईटी टीम ने सेवानिवृत्त आईपीएस अमिताभ से पूछताछ के बाद उनके ऊपर लगे आरोपों को सही पाया है. आरोपों की पुष्टि होने के बाद अमिताभ ठाकुर को गिरफ्तार किया गया है.