टिकैत गैंग की अब खैर नहीं, एक्शन में आई UP पुलिस, उपद्रव करने वाले 200 किसानों पर FIR दर्ज

कृषि कानून के विरोध में लगभग सात महीनें से दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर हो रहा किसान आंदोलन बार-बार हिंसक हो रहा है, कल एक बार फिर गाजीपुर बॉर्डर पर बवाल हो गया, उत्तर प्रदेश के भाजपा प्रदेश मंत्री अमित बाल्मिकी के काफिले पर किसान प्रदर्शनकारियों ने जानलेवा हमला कर दिया। बता दें कि गाजीपुर बॉर्डर पर किसान आंदोलन की अगुवाई भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता Rakesh Tikait कर रहे हैं, टिकैत के लोगों पर ही हमला करने का आरोप है..हमला करने वालों के खिलाफ उत्तर प्रदेश पुलिस अब एक्शन मोड़ में आ गई है. FIR against 200 farmer

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, यूपी पुलिस ने राकेश टिकैत के नेतृत्व वाले भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के 200 अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. उत्तर प्रदेश के भाजपा प्रदेश मंत्री अमित बाल्मिकी अमित वाल्मीकि की शिकायत पर यूपी पुलिस ने उपद्रव करने वाले 200 अज्ञात किसानों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 223, 352, 427 और 506 के तहत एफआईआर दर्ज की है। भाजपा पदाधिकारी ने कौशांबी थाने में शिकायत दर्ज कराई है। FIR against 200 farmer


बुधवार को, बीकेयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि यह भाजपा द्वारा जाति आधारित दंगों को भड़काने की साजिश थी। वहीँ भाजपा नेताओं का कहना है कि भाजपा प्रदेश मंत्री अमित बाल्मीकि दिल्ली से गाजियाबाद आ रहे थे। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ता उनका स्वागत करने के लिए यूपी गेट पहुंचे गए। यूपी गेट पर समर्थकों के स्वागत करने के दौरान किसान प्रदर्शनकारियों ने काफिले पर हमला बोल दिया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने उन्हें काले झंडे भी दिखाए। FIR against 200 farmer

हंगामे की सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंची है। इस घटना में भाजपा कार्यकर्ताओं की गाड़ी तोड़ी गई है। सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो वायरल हो रहे हैं, जिन्हें देखने के बाद हमलों की भयावहता का अंदाजा लगाया जा सकता है, पुलिस अब उपद्रवियों की पहचान करने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है.