15 अगस्त से पहले UP को दहलाने की बड़ी साजिश नाकाम, ATS ने लखनऊ से पकडे दो खूंखार आतंकी

15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस से पहले उत्तर प्रदेश को दहलाने की बड़ी आतंकी साजिश नाकाम हो गई है, यूपी एंटी टेरर स्क्वॉड ( एटीएस ) ने लखनऊ के काकोरी से दो आतंकियों को ज़िंदा पकड़ा ( ats arrested 2 terrorist )  लिया, दोनों आतंकियों के पास से कई बड़े बम व् भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं। आतंकियों की पहचान मिन्हाज अहमद और मसीरुद्दीन के रूप में हुई है, अलकायदा से जुड़े हुए हैं, दोनों पाकिस्तान में बैठे अपने आतंकी आकाओं के आदेश पर 15 अगस्त से पहले उत्तर प्रदेश में बड़ा बम धमाका करने वाले थे.

यूपी एटीएस के सफलतापूर्वक ऑपरेशन पर यूपी के ADG (कानून व्यवस्था), प्रशांत कुमार ने प्रेस-कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, आज उत्तर प्रदेश के ATS ने बड़े मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है। ATS की टीम ने अलकायदा समर्थित अंसार गजवा​-तुल-हिंद से जुड़े दो आतंकवादियों को गिरफ्तार ( ats arrested 2 terrorist ) किया है। उनके पास से हथियार और विस्फोटक सामग्री बरामद हुई है.

प्रशांत कुमार ने कहा, आतंकी ओसामा बिन लादेन के समय 1988 में अफगानिस्तान में हुआ था अंसार गजवातुल हिन्द का गठन। संभल से तालुक रखता था पहला सरगना। आतंकी घटना के लिये लखनऊ के मिनहाज अहमद , मसिरुद्दीन निभा रहे थे मुख्य भूमिका। लखनऊ में अल-कायदा आंतकियों की गिरफ्तारी ( ats arrested 2 terrorist )के बाद वाराणसी में अलर्ट जारी कर दिया गया है, 15 जुलाई को प्रस्तावित है पीएम मोदी का दौरा। आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद यूपी में हाई एलर्ट कर दिया गया है, वाराणसी, अयोध्या, मथुरा में अतिरिक्त सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने आज दोपहर इलाके में तलाशी अभियान शुरू किया। दोनों आतंकियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। एटीएस कमांडो ने एक घर को चारों तरफ से घेर लिया और बम निरोधक दस्ते को भी मौके पर बुलाया गया. आईजी जीके गोस्वामी के नेतृत्व में चल रहे इस ऑपरेशन में अब तक दो प्रेशर कुकर बम, टाइम बम और भारी मात्रा में हथियार बरामद किए गए हैं. सूत्रों के अनुसार, एटीएस इस घर पर काफी समय से नजर रख रही थी, जो शाहिद नाम के एक व्यक्ति का है, संदिग्ध गतिविधियों के कारण।