राजा भैया के सामने फिर बेअसर हुई मोदी-योगी की लहर, प्रतापगढ़ में भाजपा की हुई करारी हार

उत्तर प्रदेश में हुए जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में भाजपा ने प्रचंड जीत हासिल की, 75 में से 67 सीटें अपने नाम की, लेकिन प्रतापगढ़ जिले में एक बार फिर कमल नहीं खिल सका, मोदी-योगी की लहर बेअसर साबित हुई, प्रतापगढ़ में राजा भैया की पार्टी जनसत्ता दल का जिला पंचायत अध्यक्ष चुना गया, देश में जब मोदी-योगी की प्रचंड लहर चल रही थी तब भी यूपी विधानसभा चुनाव में प्रतापगढ़ के कुंडा विधानसभा क्षेत्र से राजा भैया ने बम्पर जीत हासिल की थी, यानि राजा भैया के सामने मोदी-योगी की लहर बेअसर हो जाती है…Raja Bhaiya Pratapgarh

प्रतापगढ़ में जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर राजा भैया की पार्टी ‘जनसत्ता दल लोकतांत्रिक’ ने जीत हासिल की, शनिवार को हुए चुनाव में जनसत्ता दल की प्रत्याशी माधुरी पटेल ने 40 वोट पाकर जीत दर्ज की, पूरे दिन हंगामे और विरोध के बीच सभी 57 जिला पंचायत सदस्यों में से 51 ने ही मतदान किया, तीन बजे के बाद मतों की गणना हुई, जिसमें 40 वोट राजा भैया की पार्टी जनसत्ता की प्रत्याशी माधुरी पटेल को मिले। चुनाव का बहिष्कार करते हुए भाजपा प्रत्याशी क्षमा सिंह ने वोटिंग नहीं की, उन्हें सिर्फ 3 वोट मिले। सपा प्रत्याशी को 6 वोट मिले जबकि 2 मत अवैध घोषित हो गए.Raja Bhaiya Pratapgarh

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राजा भैया की पार्टी के प्रत्याशी को हराने के लिए समाजवादी पार्टी ( सपा ) भी भाजपा को समर्थन देने के लिए तैयार थी, जो भाजपा की धुरविरोधी है, लेकिन इसके बावजूद राजा भैया के खिलाफ माहौल नहीं बन सका, एक भी जिला पंचायत सदस्य खासकर निर्दलीय किसी भी कीमत में राजा भैया का साथ छोड़ने को तैयार नहीं थे. Raja Bhaiya Pratapgarh

आपको बता दें कि कुंडा से निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ़ राजा भैया ने 2018 में अपनी पार्टी ‘जनसत्ता दल लोकतांत्रिक’ का गठन किया था, राजा भैया उत्तर प्रदेश की राजनीति में कद्दावर नेता माने जाते हैं, वो लगातार छठीं बार कुंडा सीट से निर्दलीय विधायक चुने गए हैं, कई बार मंत्री भी रह चुके हैं…देश में चाहे जिसकी लहर हो राजा भैया के सामने सब बेअसर हो जाती है.