भीड़ बढ़ने से चिंतित हुए PM मोदी, बोले- मॉस्क न लगाना, सामाजिक दूरी का पालन न करना अच्छी बात नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कैबिनेट में फेरबदल के एक दिन बाद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये मंत्रिपरिषद से बातचीत की, इस दौरान पीएम मोदी ने कोरोना काल में बढ़ रही भीड़ पर चिंता व्यक्ति की, प्रधानमंत्री ने कहा, PM Narendra Modi ने कहा कि ऐसे समय में लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए। एक गलती के दूरगामी प्रभाव होंगे और कोरोना पर काबू पाने की लड़ाई कमजोर होगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि सभी को यह याद रखना चाहिए कि #COVID19 का खतरा टला नहीं है। कई अन्य देशों में संक्रमण में वृद्धि देखी जा रही है। वायरस भी म्यूटेट कर रहा है.

समाचार एजेंसी ANI ने सूत्रों के हवाले से जानकारी दी है कि मंत्रिपरिषद की बैठक में PM Narendra Modi ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से हम तस्वीरों और वीडियो में देख रहे हैं कि सभी लोग भीड़-भाड़ वाली जगहों पर बिना मास्क और बिना सामाजिक दूरी बनाएं घूम रहे हैं। यह अच्छा नजारा नहीं है और इससे हममें डर की भावना पैदा होनी चाहिए।


दरअसल कुछ दिनों पहले करीब पांच हजार कारें शिमला में घुसने का इंतजार कर रही थीं। दूसरी तरफ सैंकड़ों पर्यटक घूमते नजर आए। मंसूरी में भी लोग बिना मॉस्क के सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते हुए मौज-मस्ती करते नजर आये. इन्ही तस्वीरों का जिक्र कर PM Narendra Modi ने मंत्रिपरिषद की बैठक में कर चिंता जताई।

बता दें कि बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ. कई नए मंत्रियों ने शपथ ली, कई राज्य मंत्रियों का प्रमोशन हुआ तो कई वरिष्ठ मंत्रियों की मंत्रिपरिषद से छुट्टी कर दी गई. शपथ ग्रहण समारोह संपन्न होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्विटर हैंडल से एक तस्वीर शेयर की. इस तस्वीर में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से लेकर सभी केंद्रीय मंत्री थे, लेकिन किसी के चेहरे पर मॉस्क नहीं लगा था, सोशल डिस्टेंसिंग का भी विशेष पालन नहीं हुआ था.