संघ प्रमुख के बयान पर बोले दिग्विजय सिंह, मोहन भागवत और ओवैसी का DNA एक है?

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ( आरएसएस ) के प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को कहा था कि सभी भारतीयों का डीएनए समान है। उन्होंने कहा, “‘हिंदू-मुस्लिम एकता’ भ्रामक है क्योंकि वे अलग नहीं हैं, लेकिन एक हैं। लोगों को उनकी पूजा करने के तरीके पर अलग नहीं किया जा सकता है, संघ प्रमुख के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मोहन भागवत और ओवैसी का DNA एक ही है, फिर लव ज़िहाद और धर्म परिवर्तन क़ानून की क्या आवश्यकता है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश के सीहोर में कहा कि अगर हिन्दू और मुस्लमान का DNA एक है तो धर्म परिवर्तन क़ानून की क्या आवश्यकता है, लव ज़िहाद क़ानून की क्या आवश्यकता है? फिर मोहन भागवत और ओवैसी का DNA एक ही है..

आपको बता दें कि ‘आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने गाजियाबाद में एक पुस्तक विमोचन समारोह में कहा कि सभी भारतीयों का डीएनए समान है। उन्होंने कहा, “‘हिंदू-मुस्लिम एकता’ भ्रामक है क्योंकि वे अलग नहीं हैं, लेकिन एक हैं। लोगों को उनकी पूजा करने के तरीके पर अलग नहीं किया जा सकता है,” उन्होंने कहा, “हम लोकतंत्र में हैं। केवल भारतीयों का प्रभुत्व हो सकता है।