ब्लॉक् प्रमुख चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद बोले कांग्रेस MLA, हिंदुत्व विरोधी है हमारी पार्टी

उत्तर प्रदेश में भाजपा की विजय का सिलसिला लगातार जारी है तो वहीँ कांग्रेस भी शर्मनाक हार हारने के नए कीर्तिमान बना रही है, जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के बाद भाजपा ने ब्लॉक प्रमुख चुनाव में भी प्रचंड जीत हासिल की है, कुल 825 सीटों में से भाजपा ने 648 सीटों पर विजय हासिल की. लगभग 300 सीटों पर भाजपा ने निर्विरोध जीत हासिल की थी, वहीँ 825 सीटों में कांग्रेस सिर्फ पांच सीटों पर ही जीत दर्ज कर सकी, 70 से से ज्यादा जिलों में कांग्रेस का खाता नहीं खुल सका. इससे पहले हाल ही में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में कांग्रेस पार्टी का खाता नहीं खुल सका था. कांग्रेस की शर्मनाक हार के बाद विधायक राकेश सिंह ( MLA Rakesh Singh ) ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है.

ब्लॉक प्रमुख चुनावी में पार्टी की करारी हार के बाद सोनिया गाँधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली से कांग्रेस विधायक राकेश सिंह ( MLA Rakesh Singh ) ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधते हुए हिन्दू विरोधी करार दिया है, रायबरेली के हरचंदपुर से कांग्रेस विधायक राकेश सिंह ने कहा कि पंचवटी परिवार के कॉन्ग्रेस से दूर होने के कारण ये सब हो रहा है। फिलहाल राकेश कांग्रेस के बागी विधायक हैं.

कांग्रेस को हिंदुत्व विरोधी करार देते हुए राकेश सिंह ( MLA Rakesh Singh ) ने कहा, कॉन्ग्रेस सिर्फ मुस्लिम परस्त राजनीति करती है, जो उन्हें पसंद नहीं है। उन्होंने बताया, “जब भी मैं कोई पूजा-पाठ कराता हूँ या अखंड रामायण का पाठ कराता हूँ तो कॉन्ग्रेस मुझे ये सब करने से रोकती है। कॉन्ग्रेस की ये नीति ही रही है कि कोई अच्छा काम न हो। ये पार्टी शत प्रतिशत हिंदुत्व की विरोधी है। हालाँकि राकेश ने स्पष्ट किया कि वह पार्टी को छोड़ नहीं रहे हैं बल्कि आगाह कर रहे हैं..

एक तरफ कांग्रेस उत्तर प्रदेश में प्रियंका गाँधी के नेतृत्व में मजबूत संगठन खड़ा कर सूबे की सत्ताधारी योगी सरकार को सबक सिखाने का दावा कर रही है जबकि असलियत यह है कि कांग्रेस यूपी में बद से बदतर हालत से गुजर रही है..हाल ही में आये पंचायत चुनाव के नतीजे चीख चीखकर इसकी गवाही दे रहे हैं.