भगवा आतंक कहने वाला पूर्व कांग्रेसी भाजपा में शामिल हो गया, धूमधाम से हुआ भाजपा में स्वागत

पूर्व कांग्रेस नेता कृपाशंकर सिंह कल धूमधाम से भाजपा में शामिल हो गए, कृपा शंकर महाराष्ट्र में पिछली कांग्रेस-एनसीपी सरकार में गृह राज्य मंत्री थे, महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की उपस्थिति में कृपाशंकर बुधवार को भाजपा में शामिल हुए, कृपाशंकर ने 2008-2012 के दौरान मुंबई कांग्रेस प्रमुख के रूप में भी काम किया था। उन्होंने 2019 के राज्य विधानसभा चुनावों के समय कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था..ये वही कृपाशंकर सिंह है, जो भगवा आतंक कहने वाले गिरोह का हिस्सा थे, जी हाँ! लेकिन अब भाजपा में आकर ये पवित्र हो गए हैं. Kripashankar Singh joins BJP

दिग्विजय सिंह, महेश भट्ट समेत कई लोगों के साथ कृपाशंकर सिंह पाकिस्तान का पाप छुपा कर हिंदुओं को और आरएसएस को आतंकी ठहराने के षड़यंत्र में शामिल थे, जबकि आतंकी कसाब के पकडे जाने के बाद पूरी तरह से स्पष्ट हो चुका था मुंबई में 26/11 हमले को पाकिस्तान के इस्लामिक आतंकियों ने ही अंजाम दिया था. Kripashankar Singh joins BJP

पूरा देश जब 26/11 के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार मान रहा था उस समय केवल कॉन्ग्रेस के नेता ही ऐसे थे, जो मुंबई में हुए आतंकी हमले को RSS से जोड़ने में जुटे थे। उन कांग्रेसियों में कृपाशंकर सिंह भी थे, कॉन्ग्रेस नेताओं ने RSS को दोषी ठहराने के लिए काल्पनिक भगवा आतंक की कॉन्सपिरेसी थ्योरी को बढ़ावा दिया। Kripashankar Singh joins BJP

26/11 हमलें को लेकर पाकिस्तान को क्लीन चिट देते हुए कांग्रेस के चहेते पत्रकार Aziz Burney ने ‘26/11 RSS की साज़िश’ नाम से एक किताब प्रकाशित की थी। इस किताब में 26/11 हमलें का सारा दोष आरएसएस पर मढ़ा गया था, इस किताब का लोकार्पण खुद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने किया था, कृपाशंकर भी शामिल थे, इस कृत्य के लिए भाजपा हमेशा दिग्विजय पर हमलावर रहती है, लेकिन दिग्विजय के साथ वही कुकृत्य करने वाले कृपाशंकर सिंह को भाजपा ने अपनी पार्टी में शामिल करके पवित्र कर दिया। कृपाशंकर के भाजपा में शामिल होने से कई भाजपाइ भी नाराज हैं.