मुश्किल में फंसी केजरीवाल सरकार, दिल्ली परिवहन निगम में हुआ करोड़ों का घोटाला, भाजपा का आरोप

दिल्ली भाजपा ने आरोप लगाया है कि दिल्ली परिवहन निगम में करोड़ों का घोटाला ( DTC BUS scam in delhi )हुआ है, घोटाले में परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत और मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की भूमिका है, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने प्रेस-कॉन्फ्रेंस करके कहा, बसों की तीन वर्ष की गारंटी रहती है। ऐसे में रखरखाव के लिए किसी निजी कंपनी से करार करने की जरुरत क्या है..केजरीवाल सरकार को बस खरीद मामले में कोई क्लीन चिट नहीं मिली है, केजरीवाल सरकार भ्रष्टाचार में रोज़ नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है.

आदेश गुप्ता ने कहा, मुख्यमंत्री केजरीवाल परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत को तुरंत बर्खास्त करें। इसके अलावा उन्होंने कहा, भाजपा बस खरीद मामले में ACB की जांच की मांग करती है, गुप्ता ने कहा, 1000 बसों के लिए 900 करोड़ रुपये और उसके रखरखाव के लिए 3500 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष हैं। डी.टी.सी. में पहले से ही बसों की रखरखाव के लिए कर्मचारी हैं, वे क्या करेंगे?

भाजपा विधायक विजेंदर गुप्ता ने कहा, बस घोटाले ( DTC BUS scam in delhi ) में मुख्यमंत्री केजरीवाल और परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत की मिली भगत है क्योंकि सहमति के बिना यह सब नहीं हो सकता था. उन्होंने कहा, बसों के चलने, रखने और देखभाल की जिम्मेदारी जब दिल्ली परिवहन निगम की है तो फिर रखरखाव के नाम पर इतना बड़ा वर्क ऑर्डर देने का क्या मतलब।

भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, DTC बस घोटाले की जांच कमेटी की लीक रिपोर्ट में साबित हो गया है कि कुछ गड़बड़ तो है, कमेटी द्वारा बस मेंटेनेंस एग्रीमेंट टेंडर पर संदेह कर उसे दुबारा करने को कहना भी भाजपा के आरोपों की पुष्टि करता है। रिपोर्ट से साफ है कि मेंटेनेंस में भारी भ्रष्टाचार है। गुप्ता ने कहा, जांच कमेटी द्वारा मेंटेनेंस एग्रीमेंट टेंडर को Turn Down करने का सीधा-सीधा मतलब है कि इसमें भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने मांग की है कि परिवहन मंत्री इस्तीफा दें और DTC बस खरीद घोटाले की जांच Anti-Corruption Branch द्वारा कराइ जाये!