सीएम केजरीवाल ने बताया दिल्ली में अभी नहीं खुलेंगे स्कूल, कहा- नहीं लेना चाहते कोई रिस्क

delhi/dont-want-to-take-any-risk-says-arvind-kejriwal-on-reopening-of-schools-in-delhi

दिल्ली में भले ही कोरोना के मामलें कम होने लगे हो लेकिन फिलहाल, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने स्पष्ट कहा है कि दिल्ली के स्कूल अभी नहीं खुलेंगे.

गुरुवार को मीडिया से बातचीत के दौरान केजरीवाल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चल रही जानकारियों से पता चलता है कि कोरोना की तीसरी लहर भी आने वाली है. इसलिए जब तक टीकाकरण की प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती तब तक हम कोई जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं.

सीएम ने आगे कहा कि- बच्चों को न्यूमोनिया, मैनिनजाइटिस, सेप्सिस आदि कई गंभीर बीमारियों से बचाने के लिए दिल्ली में न्यूमोकोकल वैक्सीन लगना शुरू हो गया है. यह टीका बहुत महंगा है, पर सभी सरकारी अस्पतालों और डिस्पेंसरी में यह टीका मुफ्त लगेगा. 5 साल से कम उम्र के बच्चों की निमोनिया की वजह से मृत्यु हो जाया करती थी. अब यह जो नए किस्म की वैक्सीन आई है, इसके लगने के बाद न्यूमोनिया की वजह से बच्चों की मृत्यु नहीं हुआ करेगी. यह वैक्सीन केवल न्यूमोनिया नहीं, बल्कि मैनिनजाइटिस समेत कई बीमारियों से बच्चों की सुरक्षा करेगा.

वहीं दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि बच्चों को गंभीर बीमारियों और मौत के खतरे से बचाने के लिए दिल्ली सरकार आज से 600 केंद्रों पर मुफ्त में यह कार्यक्रम शुरू कर रही है और केशुक्रवार से यह वैक्सीन सभी 600 सेंटर पर बच्चों को लगनी शुरू हो जाएगी. यह इंजेक्शन डेढ़ हजार से छह हजार के बीच में आता है, और एक बच्चे को तीन इंजेक्शन लगाए जाते हैं. इसलिए एक आम आदमी के लिए इस इंजेक्शन को लगवा पाना बड़ा मुश्किल है. लेकिन दिल्ली सरकार यह सारे इंजेक्शन बच्चों को निशुल्क लगाएगी.

बताते चलें, कि दिल्ली में गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 72 नए मामले सामने आए हैं और 88 मरीजों ने संक्रमण को मात दी है. फिलहाल दिल्ली में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या कुल 671 है.