बॉलीवुड से आई दुःखद खबर: दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार उर्फ़ युसूफ खान का हुआ निधन

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार उर्फ़ मोहम्मद युसूफ खान का निधन हो गया है, लम्बे समय से बीमार चल रहे दिलीप कुमार ने 98 वर्ष की अवस्था में मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में आखिरी सांस ली, दिलीप कुमार पिछले कुछ दिनों से स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओं का सामना कर रहे थे और उन्हें कई बार अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें 30 जून को मुंबई के हिंदुजा अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। कुमार की पत्नी सायरा बानो इस दौरान उनके साथ थीं। कुमार के पारिवारिक मित्र फैसल फारूकी ने अभिनेता के हैंडल के माध्यम से ट्वीट किया- “भारी मन और गहरे दुख के साथ, मैं अपने प्यारे दिलीप साब के निधन की घोषणा करता हूं। Dilip Kumar passes away

इससे पहले सायरा बानो ने प्रशंसकों को आश्वासन दिया था कि कुमार की हालत स्थिर है। बानो के आखिरी ट्वीट में लिखा था, “दिलीप कुमार साहब की तबीयत अभी स्थिर है। वह अभी भी आईसीयू में हैं, हम उन्हें घर ले जाना चाहते हैं लेकिन हम डॉक्टरों की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं क्योंकि उन्हें पता है कि जैसे ही डॉक्टर अनुमति देंगे, वे उन्हें घर ले जाएंगे। उन्हें आज डिस्चार्ज नहीं किया जाएगा। उनके प्रशंसकों की दुआओं की जरूरत है, वह जल्द ही वापस आएंगे।” Dilip Kumar passes away

इससे पहले दिलीप कुमार को 6 जून को सांस लेने में तकलीफ के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें फेफड़ों के बाहर फुफ्फुस की परतों के बीच अतिरिक्त तरल पदार्थ का निर्माण और एक सफल फुफ्फुस आकांक्षा प्रक्रिया से गुजरना पड़ा। पांच दिन बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई। Dilip Kumar passes away

बॉलीवुड के ‘ट्रेजेडी किंग’ के रूप में जाने जाने वाले इस दिग्गज अभिनेता का करियर छह दशकों से अधिक का है। उन्होंने अपने करियर में 65 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है और उन्हें ‘देवदास’ (1955), ‘नया दौर’ (1957), ‘मुगल-ए-आजम’ (1960), ‘गंगा जमुना’ जैसी फिल्मों में उनकी प्रतिष्ठित भूमिकाओं के लिए जाना जाता है। 11 दिसंबर, 1922 को पाकिस्तान के पेशावर में एक मुस्लिम परिवार में जन्म लेने वाले मुहम्मद यूसुफ खान ( बाद में नाम बदलकर दिलीप कुमार कर लिया ) ने 1944 की फिल्म ज्वार भाटा से अपने अभिनय की शुरुआत की थी.