तेल करके 200 पार, अडानी ने और तेज किया आटे का कारोबार, अक्षय कुमार कर रहे ताबड़तोड़ प्रचार

महंगाई इस समय अपने चरम पर पहुँच चुकी है, रिफाइंड और सरसों का तेल तो आम आदमी की पहुँच से लगभग दूर जा जा चुका है, ऐसा पहली बार है जब एक किलो सरसों का तेल 200 रूपये और रिफाइंड 150 रूपये से ज्यादा दामों में बिक रहा है, गौतम अडानी की मालिकाना हक वाली फॉर्च्यून ब्रांड खाद्य तेल कंपनी ने अब आटे का कारोबार तेज कर दिया है, इसके लिए अक्षय कुमार को भारी रकम अदा करके काफी तेज प्रचार करवाया जा रहा, लोगों के मन में एक डर बसने लगा है, कहीं तेल की तरह आटे का भाव भी न आसमान छूने लगे. adani fotune atta

फॉर्चून का रिफाइंड पहले काफी सस्ता हुआ करता था लेकिन अब लगभग 150 के आसपास में बिक रहा है, फार्च्यून आटे का भी अब तेजी से प्रचार किया जा रहा है, फॉर्चून भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाला खाद्य तेल ब्रांड बनने का दावा किया गया है। वर्तमान में सोया, सनफ्लावर, कपास, सरसों, मूंगफली, भारत में पहली बार राइस ब्रान और फॉर्चून एक्सपर्ट प्रो शुगर तेल की श्रृंखला उपलब्ध करवाई जा रही है। इसके अलावा अलग-अलग वर्षों में बेसन, बासमती चावल, गेहूं का आटा आदि का भी कारोबार शुरू किया गया. फ़िलहाल अक्षय कुमार द्वारा फॉर्च्यून चक्की ताजा आटा का विज्ञापन जोरशोर से किया जा रहा है. adani fotune atta

तेल महंगा होने से अब पकौड़े के धंधे पर भी खतरा मंडराने लगा है, दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2018 में समाचार चैनल जी न्यूज़ को एक इंटरव्यू दिया था, इंटरव्यू में जब पत्रकार सुधीर चौधरी ने सरकार द्वारा किए गए रोजगार के अवसर पैदा करने के वादे के मामले पर सवाल किया तब पीएम मोदी ने पकौड़ा तलने का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि अगर जी टीवी के बाहर कोई व्यक्ति पकौड़ा बेच रहा है तो क्या वह रोजगार होगा या नहीं? adani fotune atta

पकौड़ा तलने को रोजगार बताये जानें के बाद उस समय कांग्रेस सहित तमाम पार्टियों ने मोदी की जमकर आलोचना की थी, हालाँकि कुछ पकौड़े बेंचने वालों की कमाई देखकर आयकर विभाग के पैरों तले जमीन खिसक गई लेकिन अब ये रोजगार खतरे में है…