गाजियाबाद अब्दुल समद मामला: सपा नेता उम्मेद उर्फ़ इदरीश गिरफ्तार, दं’गा कराने की रचा था साजिश

गाजियाबाद के लोनी में मुस्लिम बुजुर्ग अब्दुल समद के सतह मारपीट मामलें में पुलिस ने आरोपित सपा नेता उम्मेद पहलवान उर्फ़ इदरीश को गिरफ्तार कर लिया है, दिल्ली से सपा नेता की गिरफ्तारी हुई है, इंडिया टुडे के मुताबिक़, पुलिस ने बताया कि उम्मेद पहलवान उर्फ़ इदरीस को मामले के एक अन्य आरोपी गुलशन के साथ शनिवार को दिल्ली के लोक नारायण जय प्रकाश अस्पताल के पास से गिरफ्तार किया गया। एसएसपी गाजियाबाद अमित पाठक ने सपा नेता के गिरफ़्तारी की पुष्टि की। इदरीसी के खिलाफ मामला बुधवार शाम को लोनी सीमा पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया था. Ummed Pahalwan Idrisi arrested

आरोप है कि ‘उम्मेद पहलवान उर्फ़ इदरीस ने के फेक न्यूज़ प्रकरण में पीड़ित अब्दुल समद को अपने घर ले जाकर झूठा बयान दिलवाया और जय श्रीराम-वंदेमातरम की फ़र्ज़ी कहानी गढ़ कर फेसबुक लाइव किया। इससे दंगे भी भड़क सकते थे. सपा नेता इदरिस ने फेसबुक लाइव करके अपनी कौम के लोगों को भड़काने का काम किया था. Ummed Pahalwan Idrisi arrested

इदरीश से पहले अब्दुल समद का वीडियो झूठे दावे के साथ शेयर करने वाले ऑल्ट न्यूज़ के मोहम्मद जुबेर, पत्रकार राणा अयूब, न्यूज़ पोर्टल ‘द वायर’ कांग्रेस नेता सलमान निजामी, मसकूर उस्मानी, डॉ समा मोहम्मद, सबा नकवी और माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर के खिलाफ यूपी पुलिस ने गैर जमानती धाराओं 153/ 153A/ 295A/ 505 / 120B & 34 IPC के अंतर्गत FIR पंजीकृत की है. Ummed Pahalwan Idrisi arrested

गौरतलब है कि गाजियाबाद के लोनी में मुस्लिम बुजुर्ग की कुछ लोगों ने दाढ़ी काट दी, मारपीट भी की, उसके बाद साजिश के तहत इसे ‘जय श्री राम से’ जोड़ दिया गया हिन्दुओं को बदनाम करने के लिए..जबकि पुलिस ने कहा कि आरोपित और पीड़ित पहले से परिचित थे। अब्दुल समद ने ताबीज देकर इसके सकारात्मक परिणाम का आश्वासन दिया था। ताबीज ने काम नहीं किया तो आरोपितों ने उसे पीट दिया। व्यक्तिगत विवाद की इस घटना में आरोपितों में हिन्दू और मुस्लिम, दोनों समुदायों के लोग थे। इसमें साम्प्रदायिक एंगल नहीं था, लेकिन कुछ लोगों ने इसे बनाना चाहा। अब ऐसे लोगों के खिलाफ यूपी पुलिस की कार्यवाही जारी है, जल्द ही गिरफ़्तारी होने के भी आसार हैं.