नाइजीरियन सरकार का बड़ा फैसला, ट्विटर को किया सस्पेंड

माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर को नाइजीरिया सरकार ने अनिश्चितकालीन के लिए सस्पेंड कर दिया है. संघीय सूचना और संस्कृति मंत्रालय ने ट्वीट करके ट्विटर को सस्पेंड करने की जानकारी दी, सूचना और संस्कृति मंत्री, अल्हाजी लाई मोहम्मद, ने शुक्रवार को अबूजा में जारी एक बयान में ट्विटर ( nigeria twitter ) को निलंबित करने की घोषणा की

दो दिन पहले ही ट्विटर ने नाइजीरिया के राष्ट्रपति मोहम्मदु बुहारी के आधिकारिक अकाउंट को डिलीट कर दिया था. ट्विटर का कहना था कि राष्ट्रपति ने नियमों को तोड़ा है. हालांकि इसके बाद भी शुक्रवार शाम बयान जारी करने तक ट्विटर नाइजीरिया में काम कर रहा था. मंत्रालय के विशेष सहायक सेगुन एडेयेमी से जब इस फैसले के पीछे के कारण के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा, ‘मैं तकनीकी रूप से इसका जवाब नहीं दे सकता…ट्विटर की सुविधा को अनिश्चितकाल के लिए सस्पेंड कर दिया गया है. ( nigeria twitter )

गौरतलब है कि ट्विटर जिस देश में काम करता है, वहां अपनी दादागिरी चलानें की कोशिश करता है, भारत में भी जब मन करता है ट्विटर किसी भी अकाउंट को सस्पेंड कर देता है, Manuplated Media का टैग चिपका देता है, अगर ट्विटर भारत सरकार की नई गाइडलाइन न मानता तो भारत में भी ट्विटर बैन हो सकता था.

बता दें कि मोदी सरकार ने ट्विटर को चेतावनी देते हुए कहा था कि भारत में सदियों से लोकतांत्रिक व्यवस्था रही है और अभिव्यक्ति की आजादी रही है। भारत में फ्री स्पीच का प्रोटेक्शन करने के लिए हमें किसी निजी, मुनाफे के लिए संचालित और विदेशी संस्थान की जरूरत नहीं है। यहां तक कि फ्री स्पीच को रोकने का काम खुद ट्विटर और उसकी गैर-पारदर्शी नीतियों ने किया है। इसी के चलते लोगों के अकाउंट्स को सस्पेंड किया जा रहा है और बिना किसी वाजिब कारण के ही ट्वीट्स भी डिलीट किए जा रहे हैं। सरकार ने साफ कहा था कि कानून बनाना और नीतियों को लागू करना पूरी तरह से एक संप्रभु सरकार का काम है और ट्विटर सिर्फ एक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है। ये हमेशा ख्याल रखें।