जनसंख्या नियंत्रण कानून के विरोध में उतरे सपा सांसद शफीकुर्ररहमान, बोले- बच्‍चे कुदरत की देन

image credit - deccan herald

देश में गोली की रफ़्तार से जनसंख्या बढ़ रही है, रोजाना लाखों लोगों की आबादी बढ़ जाती है, सरकार चाहकर भी इतने लोगों को रोजगार और अन्य सुविधाएं नहीं दे सकती, हमारे देश के संसाधन सीमित हैं लेकिन आबादी बढ़ती ही जा रही है। जनसख्या को कंट्रोल करने के लिए यूपी सरकार कानून लानें जा रही है, समाजवादी पार्टी के सांसद सांसद शफीकुर्ररहमान बर्क ने इस संभावित कानून की खिलाफत करते हुए कहा है कि कितने बच्चे पैदा होंगे इस पर हमारा कोई ज़ोर नहीं, ये तो निज़ाम ए क़ुदरत है’

उत्तर प्रदेश के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्र रहमान बर्क ने जनसख्या नियंत्रण को बीजेपी की नफरत फैलाने वाली पॉलिसी करार दिया है.
जनसंख्या नियंत्रण को लेकर यूपी में कानून बनाये जाने की तैयारी को लेकर शफीकुर्र रहमान बर्क ने कहा है कि कितने बच्चे पैदा होंगे, यह निजामे कुदरत है. क़ुदरतों के तौर तरीके पर हमें रुकावट डालने का कोई हक नहीं है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में जल्द ही जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू होने वाला है। राज्य विधि आयोग ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। फिलहाल आयोग अन्य प्रदेशों में लागू कानूनों के साथ सामाजिक परिस्थितियों और अन्य बिंदुओं पर अध्ययन कर रहा हैं। जल्द ही प्रतिवेदन तैयार कर सरकार को सौंपेगा।

यूपी में कई अहम कानूनों में बदलाव किया जा रहा है। इसी कड़ी में विधि आयोग ने अब जनसंख्या नियंत्रण के बड़े मुद्दे पर अपना काम शुरू किया है। इसके तहत दो से अधिक बच्चों के अभिभावकों को सरकारी योजनाओं के तहत मिलने वाली सुविधाओं में कितनी कटौती की जाए, इस पर मंथन होगा।