जिस किसान आंदोलन का राहुल गांधी ने किया समर्थन, उसमें अबतक बलात्कार से लेकर हत्या तक हो चुकी है

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर किसान आंदोलन का समर्थन करने का ऐलान किया, राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, सीधी-सीधी बात है- हम सत्याग्रही अन्नदाता के साथ हैं। गौरतलब है कि केंद्र सरकार द्वारा बनाये गए तीन नए कृषि कानून के विरोध में हजारों किसान लगभग सात महीनें से दिल्ली की विभिन्न सीमांओं पर आंदोलन कर रहे हैं, अब तक इस तथाकथित किसान आंदोलन का कोई परिणाम नहीं निकल सका है, अलग-अलग कुकृत्यों के कारण कई बार यह आंदोलन सुर्खियां बटोर चुका है. ( rahul gandhi farmer protest )

राहुल गांधी जिस किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं, उस आंदोलन में अबतक महिला के साथ बलात्कार से लेकर एक व्यक्ति को ज़िंदा जलाया जा चुका है..इन सब घटनाओं पर राहुल गांधी खामोश रहे थे..एक ट्वीट तक नहीं किये। ( rahul gandhi farmer protest )

टीकरी बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन से पहले बलात्कार की खबर आई तथा उसके बाद एक व्यक्ति को पेट्रोल डालकर ज़िंदा जला देने की खबर आने से लोग हैरान हैं, जानकारी अनुसार, टिकरी बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में एक 42 वर्षीय व्यक्ति को शराब पिलाकर, फिर पेट्रोल डालकर ज़िंदा जला दिया गया, ईलाज के दौरान व्यक्ति की मौत हो गई, इस घटना को लेकर हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा, टिकरी बॉर्डर पर एक किसान को पेट्रोल डालकर जला देने के मामले में FIR दर्ज़ की गई है. मृतक जींद के कसार का रहने वाला था. ( rahul gandhi farmer protest )

बहादुरगढ़ के बाईपास पर गांव कसार के निकट किसान आंदोलन में गए कसार निवासी मुकेश को पहले शराब पिलाई गई और फिर शहीद होने का नाम देकर उस पर तेल छिड़ककर आग लगा दी गई, जिससे उसकी मौत हो गई। मृतक के भाई के बयान के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि इससे पहले टीकरी बॉर्डर से बलात्कार की खबर सामने आई थी, आरोप है कि पश्चिम बंगाल से आई 25 वर्षीय युवती से किसान आंदोलन से जुड़े लोगों ने बलात्कार किया था, बाद में युवती की कोरोना से मौत हो गई. पुलिस ने 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है, मुख्य आरोपी अनिल मलिक गिरफ्तार हो चुका है, अन्य की तलाश जारी है.