पंजाब: कांग्रेस में कलह जारी, आमने-सामने आये नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब में कांग्रेस के भीतर कलह थमनें का नाम नहीं ले रही है, नवजोत सिंह सिद्धू और सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह आमने-सामने आ चुके हैं, इससे कांग्रेस आलाकमान की चिंता बढ़ गई हैए. आंतरिक कलह के बीच नवजोत सिंह सिद्धू ने विस्फोटक बयान देकर कांग्रेस आलाकमान की चिंता बढ़ा दी है, सिद्धू ने जोर देकर कहा, वह “शोपीस” नहीं हैं, जिसका इस्तेमाल चुनाव जीतने के लिए किया जाए और फिर राज्य के हितों से ऊपर अपने हितों को रखा जाए. Sidhu and Amarinder Punjab

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को राज्य कांग्रेस में बदलाव से पहले अमृतसर के सांसद गुरजीत सिंह औजला और फतेहगढ़ साहिब के विधायक कुलजीत सिंह नागरा सहित पंजाब के कुछ नेताओं से मुलाकात की। Sidhu and Amarinder Punjab

जानकारी के अनुसार, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार, 22 जून को पंजाब की कलह को सुलझाने के लिए गठित की गई तीन सदस्यीय कांग्रेस पैनल से मुलाकात की और पार्टी के भीतर अपने प्रतिद्वंद्वी नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा दिए गए हालिया बयानों के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया। Sidhu and Amarinder Punjab

कहा जा रहा है कि पैनल ने कांग्रेस के दो नेताओं के बेटों को सरकारी नौकरी देने के अपने फैसले पर पंजाब के सीएम से स्पष्टीकरण मांगा है। पैनल के साथ कैप्टन की बैठक लगभग तीन घंटे तक चली, इस बैठक में राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, पंजाब के कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत और वरिष्ठ नेता जेपी अग्रवाल शामिल हैं. ये बैठकें तब हो रही हैं जब तीन सदस्यीय पैनल पहले ही अधिकांश सांसदों और विधायकों से मिल चुका है और राहुल गांधी ने भी उनमें से कुछ से बात की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, पंजाब में चल रही कलह को लेकर अब कैप्टन अमरिंदर सोनिया गांधी से मुलाकात कर सकते हैं. इसके अलावा पार्टी नेतृत्व सिद्धू से भी सम्पर्क करेगा। सिद्धू को कांग्रेस को दरकिनार नहीं कर सकती, क्योंकि आम आदमी पार्टी भी सिद्धू पर डोरे डालने में जुटी है.