दो से अधिक बच्चों के अभिभावकों की बढ़ सकती है परेशानी, यूपी में जनसख्या नियंत्रण कानून पर तैयारी शुरू

भारत में जनसँख्या विस्फोट हो रहा है, रोजाना लाखों लोगों की आबादी बढ़ जाती है, सरकार चाहकर पर भी इतने लोगों को रोजगार और अन्य सुविधाएं नहीं दे सकती, हमारे देश के संसाधन सीमित हैं लेकिन आबादी बढ़ती ही जा रही है। अब उत्तर प्रदेश में दो से अधिक अभिभावकों परेशानी बढ़ सकती है, क्योंकि योगी सरकार जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने जा रही है.

नई दुनिया में छपी खबर के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में जल्द ही जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू होने वाला है। राज्य विधि आयोग ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। फिलहाल आयोग अन्य प्रदेशों में लागू कानूनों के साथ सामाजिक परिस्थितियों और अन्य बिंदुओं पर अध्ययन कर रहा हैं। जल्द ही प्रतिवेदन तैयार कर सरकार को सौंपेगा।

यूपी में कई अहम कानूनों में बदलाव किया जा रहा है। इसी कड़ी में विधि आयोग ने अब जनसंख्या नियंत्रण के बड़े मुद्दे पर अपना काम शुरू किया है। इसके तहत दो से अधिक बच्चों के अभिभावकों को सरकारी योजनाओं के तहत मिलने वाली सुविधाओं में कितनी कटौती की जाए, इस पर मंथन होगा। फिलहाल राशन व अन्य सब्सिडी में कटौती के विभिन्न पहलुओं पर विचार किया जा रहा है। भी हाल ही में असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिश्व सरमा ने एलान किया कि दो से अधिक बच्चों वालों को सरकारी सुविधा का लाभ नहीं दिया जाएगा।