मोदी सरकार ने धारा 370 खत्म कर दिया, हम इसे स्वीकार नहीं करेंगे, लड़ाई लड़ेंगे: उमर अब्दुल्ला

प्रधानमंत्री मोदी के साथ जम्मू-कश्मीर के नेताओं की सर्वदलीय बैठक समाप्त हो गई है, यह बैठक करीब साढ़े तीन घंटे तक चली, सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी बात रखी, उसके बाद कश्मीर के सभी नेताओं ने एक-एक करके अपने एजेंडे को सामने रखा, पीएम मोदी के साथ बैठक ख़त्म होने के बाद मीडिया से बात करते हुए जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता Omar Abdullah ने कहा, 5 अगस्त 2019 को केंद्र सरकार के द्वारा 370 को ख़त्म करने के फ़ैसले को हम स्वीकार नहीं करेंगे।

Omar Abdullah ने कहा, हमने बैठक में कहा कि 5 अगस्त 2019 को केंद्र सरकार के द्वारा 370 को ख़त्म करने के फ़ैसले को हम स्वीकार नहीं करेंगे। हम अदालत के जरिए 370 के मामले पर अपनी लड़ाई लडेंगे। लोग चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर को पूर्ण रूप से राज्य का दर्ज़ा दिया जाए. प्रधानमंत्री और गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक में कहा कि हम चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्ज़ा जल्द से जल्द मिले और वहां पर चुनाव भी जल्द से जल्द करवाए जाएं।

Omar Abdullah ने कहा, हमने पीएम से कहा कि जम्मू-कश्मीर और दिल्ली के बीच का भरोसा टूट गया है. पीएम को जो भी उचित लगे, उसे बहाल किया जाना चाहिए। हमने पीएम से कहा कि 5 अगस्त 2019 को जो किया गया उसके साथ हम खड़े नहीं हैं। हम इसे स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं। लेकिन हम कानून हाथ में नहीं लेंगे। हम इसे कोर्ट में लड़ेंगे। राज्य और केंद्र के बीच विश्वास भंग हुआ है। इसे बहाल करना केंद्र का कर्तव्य है..

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, बैठक में PM ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में सभी जगह विकास पहुंचे इसके लिए साझेदारी हो। विधानसभा चुनाव के लिए डिलिमिटेशन की प्रक्रिया को तेज़ी से पूरा करना होगा ताकि हर क्षेत्र प्राप्त राजनीतिक प्रतिनिधित्व विधानसभा में प्राप्त हो सकें।