प्रकृति के क़हर पर भारी पड़ा लोगों का उत्साह, चारों तरफ पानी-पानी, बीच में सम्पन्न हुई शादी

प्रकृति के क़हर पर लोगों का उत्साह भारी पड़ गया है, जी हाँ! चारों तरफ जल हो और बीच में शादी सम्पन्न हो जाय, ये सिर्फ हौंसलों से ही हो सकता है, बिहार के चम्पारण जिले के एक गाँव में बाढ़ के बीच विवाह सम्पन्न हो गया, वो भी पूरे रीति-रिवाज के साथ..वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश कुमार सिंह ने एक वीडियो शेयर करके इस पूरे मामलें की जानकारी दी है..( marriage bihar purvi champaran )

वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश कुमार सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा, ये तस्वीर बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के ढेकहां गांव की है। घर के चारों तरफ पानी है और आवाज़ गूंज रही है शादी के गानों की। बाढ़ के बीच नाव में बैठकर बाराती आए और शादी संपन्न हुई। प्रकृति के क़हर पर भारी पड़ा इस इलाक़े के लोगों का उत्साह और साहस। ऐसा ही है बिहार! ( marriage bihar purvi champaran )


मिली जानकारी के मुताबिक, शादी पहले से तय थी, लेकिन बीच में ही गाँव बाढ़ से प्रभावित हो गया, इसके बाद भी दोनों पक्षों की ओर से शादी तय समय पर ही सम्पन्न कराने का निर्णय लिया गया. ( marriage bihar purvi champaran )

चारों तरफ पानी-पानी और बीच में वो घर जहाँ शादी सम्पन्न होनी थी, लेकिन किसी के इरादे डिगे नहीं। दूल्हा समेत सभी बराती नाव से पहुंचे और पूरे रीति-रिवाज के साथ बाढ़ के बीच शादी सम्पन्न हुयी। तारीफ के काबिल कन्या और वर पक्ष दोनों हैं..चाहते तो शादी टाल सकते थे, लेकिन प्रकृति के क़हर के सामने संघर्ष करना उचित समझा, कन्या पक्ष ने बाढ़ के बीच पूरी व्यवस्था की और उधर वर पक्ष भी बिना डरे-सहमें नाव पर सवार होकर बरात लेकर पहुँच गया. बाढ़ के बीच सम्पन्न हुई शादी चर्चा का विषय बन गई है.