वैक्सीन लगानें में फिसड्डी साबित हुई केजरीवाल सरकार, कल दिल्ली में लगी सबसे कम वैक्सीन

image credit - the wire and cmo delhi

कल ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस’ था, इस मौके पर देश में बहुत तेजी से टीकाकरण हुआ, एक दिन में लगभग 85 लाख वैक्सीन लगाई गई, योग दिवस पर वैक्सीन लगाने के मामलें में जहाँ मध्यप्रदेश सबसे आगे रहा तो वहीँ दिल्ली की केजरीवाल सरकार अंतिम पायदान पर ही, वैक्सीन लगानें में फिसड्डी साबित हुई..दिल्ली में सबसे कम वैक्सीन लगी, पिछले 24 घंटों में देश भर में 86.16 लाख COVID-19 वैक्सीन लगाई गई, सरकार की CoWin वेबसाइट के डेटा से पता चलता है कि सोमवार को कुल 86,16,373 वैक्सीन शॉट लगाए गए। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को रिकॉर्ड तोड़ टीकाकरण पार ख़ुशी जताई। (Low vaccination in Delhi )

दिल्ली में कल केवल 74 हजार टीके लगे। इससे कहीं अधिक तो अन्य छोटे राज्यों जैसे हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, त्रिपुरा आदि में लगाए गए। पंजाब में भी दिल्ली से ज्यादा टीके लगाए गए। वहीँ मध्यप्रदेश में रिकॉर्ड 15 लाख से ज्यादा वैक्सीन एक दिन में लगाई गई. (Low vaccination in Delhi )

इसके अलावा हरियाणा में साढ़े 4 लाख से ज्यादा वैक्सीन लगाई गई, गुजरात में लगभग 5 लाख, कर्नाटक में 10 लाख, उत्तर प्रदेश में साढ़े लाख वैक्सीन लगाई गई, भाजपा शाषित प्रदेशों वैक्सीनेशन प्रोग्राम ठीक-ठाक चला. (Low vaccination in Delhi )

सरकारी अधिकारियों ने कहा कि पंजाब, झारखंड, छत्तीसगढ़ और दिल्ली जैसे विपक्षी शासित राज्यों के निराशाजनक प्रदर्शन रहा जो 1 लाख टीकाकरण तक को भी नहीं पार कर पाए. केंद्र ने कांग्रेस और विपक्षी शासित राज्यों के कुछ मुख्यमंत्रियों के आग्रह पर 1 मई से 18-44 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण शुरू कर दिया था.

रिकॉर्ड टीकाकरण से खुश होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आज की रिकॉर्ड तोड़ टीकाकरण संख्या प्रसन्न करने वाली है। कोविड -19 से लड़ने के लिए वैक्सीन हमारा सबसे मजबूत हथियार है। उन सभी को बधाई जिन्होंने टीका लगाया और सभी अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं को बधाई दी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि इतने सारे नागरिकों को टीका मिल सके।