बॉम्बे हाईकोर्ट ने रद्द किया सांसद Navneet Rana का ये सर्टिफिकेट, 2 लाख का जुर्माना भी ठोंका

navneet rana

महाराष्ट्र की अमरावती से सांसद Navneet Rana को बड़ा झटका लगा है, बॉम्बे हाईकोर्ट ने न सिर्फ नवनीत राणा का जाति प्रमाणपत्र रद्द कर दिया है बल्कि 2 लाख रूपये का जुर्माना भी ठोंका है, नवनीत राणा पर फर्जी तरीके से जाति प्रमाणपत्र बनवाने का आरोप है, बॉम्बे हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद Navneet Rana ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की बात कही है, सांसद नवनीत राणा ने कहा, मैं इस देश के नागरिक के रूप में अदालत के आदेश का सम्मान करती हूं। मैं सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाउंगी, मुझे विश्वास है कि मुझे न्याय मिलेगा।

महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र के दूसरे सबसे बड़े शहर अमरावती से पहली बार सांसद बनीं नवनीत राणा की लोकसभा सदस्य्ता भी अब खतरें में है, हालाँकि कोर्ट ने इसपर कुछ नहीं कहा, 7 भाषाएँ बोलने वाली निर्दलीय सांसद नवनीत कौर राणा पूर्व सांसद और शिवसेना नेता आनंदराव अडसुल को हराकर लोकसभा पहुँची थी.

navneet Rana

दरअसल नवनीत राणा के पास SC जाति का सर्टिफिकेट है, याचिकाकर्ता ने दावा किया कि Navneet Rana मूलतः पंजाब से हैं और लबाना जाति से आती हैं, जो कि महाराष्ट्र में SC की श्रेणी में नहीं आती हैं. ऐसे में उन्होंने फर्जी तरीके से अपना जाति का सर्टिफिकेट बनवाया, नवनीत राणा पर स्कूल के फर्जी डॉक्यूमेंट्स दिखाकर सर्टिफिकेट बनाने का आरोप लगा. जिसके बाद अदालत ने राणा का जाति प्रमाणपत्र खारिज कर दिया।

कुछ महीनों पहले लोकसभा में शिवसेना के खिलाफ बोलने पर निर्दलीय सांसद नवनीत राणा को जान से मारने और तेजाब फेंकने की धमकी दी गई थी, नवनीत राणा को धमकी की चिट्ठी शिवसेना के लेटरहेड पर भेजी गई है, धमकी मिलने के बाद नवनीत राणा ने दिल्ली के नार्थ एवेन्यू थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी, नवनीत राणा का कहना है कि आठ फरवरी को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर मेरे भाषण के खिलाफ शिवसेना पार्टी के लेटरहेड पर अनजान पत्र के माध्यम से गालियों और अपशब्दों का प्रयोग करते हुए आठ दिन में माफी न मांगने पर मुझे और पति को जान से मारने की धमकी दी है।