गौरव भाटिया ने बोला किसान आंदोलन पर हमला, कहा- जहाँ बलात्कार हो रहा हो और ज़िंदा जलाया जा रहा हो…

केंद्र सरकार द्वारा बनाये गए तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में पिछले लगभग 6 महीनें से दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर तथाकथित किसान आंदोलन कर रहे हैं, अब यह कथित किसान आंदोलन अराजकता की ओर बढ़ रहा है, टीकरी बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन से पहले बलात्कार की खबर आई तथा उसके बाद अब एक व्यक्ति को पेट्रोल डालकर ज़िंदा जला देने की खबर आने से लोग हैरान हैं, किसान आंदोलन पर निशाना साधते हुए भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा, जहाँ बलात्कार हो और ज़िंदा जलाया जा रहा हो उन्हें आन्दोलनकरी नहीं कहा जा सकता। gaurav bhatia farmer protest

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता व् सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील गौरव भाटिया ने कहा, तथाकथित’ किसानों द्वारा किया जा रहा ये वो प्रदर्शन है जहाँ हमारी बहन का बलात्कार हो जाता है, विदेशी महिला के साथ दुर्व्यवहार होता है, हमारे भाई को जिंदा जला दिया जाता है और महिला पत्रकारों से छेड़छाड़ की जाती है। जो देश के कानून को ताक पे रखे उन्हें आंदोलनकारी नहीं कहा जा सकता! gaurav bhatia farmer protest


भाटिया ने कहा, “हमारी बहन का बलात्कार करने वाले और हमारे भाई को जिंदा जला देने वाले भला किसान कैसे हो सकते हैं? आज ये सवाल उन नेताओं से पूछा जाना चाहिए जो इन प्रदर्शनकारियों को ‘किसान’ कहते हैं।” “देश का किसान अपनी जान तो दे सकता है पर किसी की जान ले नहीं सकता है।” भाजपा प्रवक्ता ने कहा, “जब सुप्रीम कोर्ट द्वारा कृषि कानूनों पर रोक लगा दी गई है फिर भी ये ‘तथाकथित’ किसान प्रदर्शन के नाम पर देश में अराजकता का माहौल फैलाना चाहते हैं।” gaurav bhatia farmer protest

एक अन्य ट्वीट में भाटिया ने लिखा, देश के 15 करोड़ किसान श्री नरेंद्र मोदी जी के साथ हैं। देश का किसान अपनी जान तो दे सकता है पर किसी की जान ले नहीं सकता है। जब सुप्रीम कोर्ट द्वारा कृषि कानूनों पर रोक लगा दी गई है फिर भी ये ‘तथाकथित’ किसान प्रदर्शन के नाम पर देश में अराजकता का माहौल फैलाना चाहते हैं।