असम से 4 बार के विधायक ने दिया इस्तीफ़ा, कहा- जबतक राहुल गांधी हैं, तबतक कांग्रेस आगे नहीं बढ़ सकती

असम के मरियानी विधानसभा क्षेत्र से चार बार के कांग्रेस विधायक ‘रूप ज्योति कुर्मी’ ने आज कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया, इस्तीफा देता हुए उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर गंभीर आरोप लगाया। इसके अलावा उन्होंने असम में कांग्रेस-UDF गठबंधन पर भी सवाल उठाये। रूप ज्योति कुर्मी ने शुक्रवार को मरियानी विधायक के रूप में अपना इस्तीफा असम विधानसभा अध्यक्ष बिस्वजीत दैमारी को सौंपा। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, रूप ज्योति कुर्मी’ जल्द ही भाजपा का दामन थामेंगे। ‘रूप ज्योति कुर्मी’ 21 जून (सोमवार) को लखीमपुर में एक समारोह में भाजपा में शामिल होंगे। ( assam mla Rupjyoti Kurmi )

रूप ज्योति कुर्मी ने आरोप लगाया कि पार्टी के राज्य नेतृत्व में तानाशाही चल रही है। उन्होंने कहा, “कांग्रेस एक बोर्गोस (एक विशाल पेड़) है, लेकिन इसके पत्ते गिरने और मुरझाने लगे हैं।” कुर्मी ने कहा कि वह मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा की क्षमता और कौशल के कारण भाजपा की ओर आकर्षित हो रहे हैं। ( assam mla Rupjyoti Kurmi )

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए विधायक रूपज्योति कुर्मी ने कहा, गुवाहाटी के नेता बुजुर्ग नेताओं को ही प्राथमिकता देते हैं। हमने उनसे कहा था कि कांग्रेस के पास इस बार सत्ता में आने का अच्छा मौका है और हमें एआईयूडीएफ के साथ गठबंधन नहीं करना चाहिए क्योंकि यह एक गलती होगी। यह वास्तव में था. ( assam mla Rupjyoti Kurmi )

उन्होंने कहा, कांग्रेस अपने युवा नेताओं की नहीं सुन रही है। इसलिए सभी राज्यों में इसकी स्थिति बिगड़ती जा रही है। विधायक ने कहा, राहुल गांधी नेतृत्व करने में असमर्थ हैं, अगर वह शीर्ष पर हैं तो पार्टी आगे नहीं बढ़ेगी।

आपको बता दें कि कांग्रेस ने असम विधानसभा चुनाव कट्टर इस्लामिक पार्टी बदरुद्दीन अजमल की पार्टी AIUDF के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था, राहुल गांधी और प्रियंका ने व्यक्तिगत तौर पर असम में जीत हासिल करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी थी, लेकिन सफलता इनके हाथ नहीं लग सकी, भाजपा दूसरी बार सरकार बनानें में सफल हुई.