भाजपा हिंदुत्व के नाम पर लड़ेगी यूपी चुनाव, बोले मौलाना अंसार रजा, विपक्ष से लगाई ये गुहार

मौलाना अंसार रजा ने आशंका जताई है कि उत्तर प्रदेश का विधानसभा हिंदुत्व के नाम पर लड़ा जाएगा, उन्होंने विपक्ष से गुहार लगाई है कि विपक्ष को भी कोई ऐसा चेहरा उतारना चाहिए जो टक्कर दे सके. गरीब नवाज फाउंडेशन के मुखिया मौलाना Ansar Raza ने अपने ट्वीट में लिखा, भाजपा उत्तर प्रदेश में जिस तरह से माहौल बना रही है, उससे ऐसा लग रहा है कि 2022 का चुनाव “धर्म” और “हिंदुत्व” के नाम पर लडा जाएगा, ऐसे मेँ विपक्ष को भी चाहिए कि कोई ऐसा चेहरा उतारे जो भाजपा को उसी की “भाषा” में जवाब दे सके. कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने भी मौलाना Ansar Raza के इस ट्वीट को रीट्वीट करके अपनी सहमति जताई।

मौलाना Ansar Raza ने एक दूसरे ट्वीट में लिखा, ‘अगर कांग्रेस को “सत्ता” में वापसी करनी है तो वही रस्ता” अपनाना पड़ेगा जो भाजपा ने सत्ता पाने के लिए अपनाया, कांग्रेस को उसी की “पिच” पर खेल कर वापसी का रस्ता मिल सकता हे! मौलाना के कहने का अर्थ यह है कि भाजपा जैसे हिंदुत्व के मुद्दे को आगे रखकर बढ़ रही है, उसी प्रकार कांग्रेस को भी मुस्लिम मुद्दे को आगे रखकर बढ़ना चाहिए।

आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर यूपी और दिल्ली के बीच कुछ राजनैतिक हलचल चल रही है, इसको लेकर कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा, आगामी उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव धर्म के नाम पर लड़ा जाएगा। राजनैतिक हलचल को प्रमोद कृष्णम ने हिंदुत्व से जोड़ दिया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हिंदुत्व को बड़ा चेहरा करार देते हुए कांग्रेस नेता Acharya Pramod Krishnam ने कहा, इस देश को हिंदू राष्ट्र बनाने की तैयारी हो रही है। भाजपा हाईकमान ने जो फैसला लिया है कि अगला चुनाव उत्तर प्रदेश में योगी जी के नेतृत्व में होगा, तो यह बात साफ हो जाती है कि यूपी का होने वाला चुनाव मुद्दों पर नहीं होगा। धर्म के नाम पर होगा।