कॉंग्रेस ने उड़ाया हिन्दुओं की आस्था का मजाक, सिंघवी ने योग में ॐ की जगह अल्लाह की किया वकालत

image credit - Outlook india

कांग्रेस पार्टी द्वारा समय-समय से हिन्दुओं की आस्थाओं का मजाक उड़ाया जाता रहा है, इसी कड़ी में अब कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने योग में ॐ की जगह अल्लाह बोलने की वकालत की है, सिंघवी के इस बयान के बाद हिन्दुओं में काफी आक्रोश है, सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता और कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट कर कहा, ॐ के उच्चारण से ना तो योग ज्यादा शक्तिशाली हो जाएगा और ना अल्लाह कहने से योग की शक्ति कम होगी।..abhishek singhvi Yoga

सिंघवी के इस बयान के बाद योगगुरु स्वामी रामदेव ने कहा, ईश्वर-अल्लाह तेरो नाम, सबको सन्मति दे भगवान. अल्लाह, भगवान, ख़ुदा सब एक ही हैं, योग करेंगे तो सभी को परमात्मा एक ही दिखेगा. ॐ बोलने में दिक्कत क्या है? हम किसी को अल्लाह बोलने से मना तो नहीं कर रहे हैं…abhishek singhvi Yoga


कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने अभिषेक मनु सिंघवी का विरोध करते हुए ट्वीट कर कहा, धर्म ग्रंथों के अनुसार ॐ को “नाद ब्रह्म” कहा गया है,ॐ के बिना “सनातन” धर्म की कल्पना करना भी व्यर्थ है क्यूँ कि ॐ मात्र एक शब्द नहीं बल्कि इस चर अचर जगत का आधार स्पंदन है, इस लिये अज्ञानता वश ॐ पर टिप्पणी करना कदापि उचित नहीं है…abhishek singhvi Yoga

बता दें की कोविड-19 महामारी के कारण लगातार दूसरे वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस डिजिटल रूप से मनाया जा रहा है। इस साल की थीम ‘योग फॉर वेलनेस’ है। योग शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों को बढ़ाकर लोगों को अवसाद और चिंता जैसे संकटों से निपटने में मदद कर सकता है। संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा ने अपने प्रस्‍ताव 11 दिसंबर 2014 को स्‍वीकार करते हुए 21 जून को अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस घोषित किया। UN में पीएम मोदी ने इसका प्रस्ताव रखा था, वर्ष 2015 से दुनियाभर में स्‍वस्‍थ जीवन के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस एक जन आंदोलन बन गया।